सिडनी, प्रेट्र। omens T20 WC 2020 semi final Ind vs Eng: ग्रुप चरण में अजेय रहा भारत गुरुवार को इंग्लैंड की मजबूत टीम के खिलाफ सेमीफाइनल में जीत दर्ज करके पहली बार आइसीसी महिला टी-20 विश्व कप के फाइनल में जगह बनाने के इरादे से उतरेगा। वहीं, एक अन्य सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका को मेजबान ऑस्ट्रेलिया से भिड़ना है। हालांकि, दोपहर में बारिश की भविष्यवाणी की गई है जिससे दोनों ही सेमीफाइनल मैचों पर खतरा मंडरा रहा है। अगर दोनों सेमीफाइनल बारिश की भेंट चढ़ जाते हैं तो भारत और दक्षिण अफ्रीका मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में रविवार को होने वाले फाइनल में जगह बना लेंगे, क्योंकि ये दोनों टीमें अपने ग्रुप में शीर्ष पर रही थीं।

अच्छी फॉर्म में भारत : भारत मौजूदा टूर्नामेंट में अब तक सर्वश्रेष्ठ टीम रहा है। भारत पिछले सात टूर्नामेंट में कभी फाइनल में नहीं पहुंचा, लेकिन इस बार शानदार प्रदर्शन की बदौलत टीम प्रबल दावेदारों में शामिल है। भारत ने अपने अभियान की शुरुआत चार बार के चैंपियन ऑस्ट्रेलिया पर जीत के साथ की और फिर बांग्लादेश, न्यूजीलैंड और श्रीलंका को भी हराकर ग्रुप-ए में चार मैचों में आठ अंक के साथ शीर्ष पर रहा। भारत अच्छी फॉर्म में है, लेकिन रिकॉर्ड इंग्लैंड के पक्ष है जिसने महिला टी-20 विश्व कप में दोनों टीमों के बीच अब तक हुए पांचों मुकाबलों में जीत दर्ज की है।

बढ़ा है आत्मविश्वास : वेस्टइंडीज में हुए पिछले टी-20 विश्व कप के सेमीफाइनल में भी इंग्लैंड ने भारत को आठ विकेट से हराया था, जबकि इससे पहले 2009, 2012, 2014 और 2016 में भी टीम इंडिया को ग्रुप चरण में इस टीम के खिलाफ हार झेलनी पड़ी। भारत की मौजूदा टीम में शामिल सात खिलाड़ी 2018 में सेमीफाइनल मुकाबले में खेली थीं और अब वे इंग्लैंड से हिसाब चुकता करने को बेताब हैं। भारत ने विश्व कप से पहले त्रिकोणीय सीरीज में भी इंग्लैंड को हराया था जिससे टीम का आत्मविश्वास बढ़ा होगा।

शेफाली पर निर्भरता : टूर्नामेंट में भारत की शीर्ष स्कोरर शेफाली वर्मा ने चार मैचों में 161 रन बनाए हैं, जिसकी बदौलत आइसीसी महिला टी-20 रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंच गई हैं। शेफाली टूर्नामेंट की सबसे सफल बल्लेबाजों में इंग्लैंड की नताली स्किवर (202 रन) और हीथर नाइट (193 रन) के बाद तीसरे स्थान पर हैं। जेमिमा रोड्रिग्ज भी अच्छी लय में हैं, लेकिन बड़ी पारी खेलने में नाकाम रही हैं।

मध्यक्रम में भी वेदा कृष्णमूर्ति, शिखा पांडे और राधा यादव ने जरूरत पड़ने पर उपयोगी योगदान दिया है। टीम की दो सबसे अनुभवी खिलाड़ी कप्तान हरमनप्रीत कौर और सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना हालांकि अब तक उम्मीदों पर खरी नहीं उतर पाई हैं और सेमीफाइनल में फॉर्म में वापसी करना चाहेंगी। गेंदबाजी विभाग में लेग स्पिनर पूनम यादव चार मैचों में नौ विकेट के साथ सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज हैं। शिखा (चार मैचों में सात विकेट) से उन्हें अच्छा सहयोग मिला है।

इंग्लैंड की ताकत : वहीं, इंग्लैंड ने ग्रुप-बी में तीन जीत और एक हार से दूसरे स्थान पर रहते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाई। नताली ने तीन अर्धशतक की मदद से 67.33 की औसत से 202 रन बनाए और भारतीय गेंदबाजों को उन्हें रोकने का तरीका ढूंढना होगा। गेंदबाजी विभाग में भी इंग्लैंड के पास बायें हाथ की स्पिनर सोफी एक्लेस्टोन (आठ विकेट) और तेज गेंदबाज अन्या श्रुबसोल (सात विकेट) जैसी गेंदबाज हैं जो मौजूदा टूर्नामेंट की सबसे सफल गेंदबाजों की सूची में क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं।

टीम :

भारत : हरमनप्रीत कौर (कप्तान), जेमिमा रोड्रिग्ज, शेफाली वर्मा, स्मृति मंधाना, शिखा पांडे, पूनम यादव, दीप्ति शर्मा, वेदा कृष्णमूर्ति, तानिया भाटिया, राधा यादव, अरुंधति रेड्डी, हरलीन देओल, राजेश्वरी गायकवाड़, रिचा घोष और पूजा वस्त्रकार।

इंग्लैंड : हीथर नाइट (कप्तान), टैमी ब्युमोंट, कैथरीन ब्रंट, केट क्रॉस, फ्रेया डेविस, सोफी एक्लेस्टोन, जार्जिया एल्विस, सारा ग्लेन, एमी जोंस, नताली स्किवर, अन्या श्रुबसोल, मैडी विलियर्स, फ्रेन विल्सन, लॉरेन विनफील्ड और डेनी वाट।

Edited By: Sanjay Savern