देहरादून। भारत के खिलाफ बैंगलोर टेस्ट से ठीक पहले अफगानिस्तान की टीम बांग्लादेश के खिलाफ यहां तीन टी20 मैचों की सीरीज खेलेगा। भारत के खिलाफ टेस्ट से पहले अभी अफगानिस्तान के पास दो हफ्ते का वक्त है और इस सीरीज के जरिए उनकी नजर अच्छी तैयारी पर भी है। अफगानिस्तान और भारत के बीच खेले जाने वाले टेस्ट मैच की घोषणा इस वर्ष जनवरी में की गई थी वहीं बांग्लादेश के खिलाफ राजीव गांधी इंटरनैशनल     क्रिकेट स्टेडियम में होने वाले टी20 मैचों की सीरीज के बारे में पिछले महीने ही जानकारी दी गई थी। अफगानिस्तान की टीम टेस्ट और टी20 सीरीज के लिए एक साथ तैयारी कर रही है। दोनों प्रारूपों के मुकाबले के लिए अफगानिस्तान की टीम दो बैच में ट्रेनिंग ले रही है। टेस्ट मैच के लिए टेस्ट टीम को सुबह में जबकि टी 20 मैच के लिए टीम को शान में ट्रेेनिंग करनी पड़ रही है। 

अफगानिस्तान की टीम में सिर्फ पांच खिलाड़ी ही ऐसे हैं जो बांग्लादेश और भारत के खिलाफ टी 20 और टेस्ट मैच खेलेंगे। इन खिलाड़ियों में टीम के कप्तान असगर स्टेनिजई, मो. शहजाद, राशिद खान, मुजीब जरदान और मो. नबी शामिल हैं। टीम के कोच फिल सिमंस का कहना है कि भारत के खिलाफ टेस्ट मैच के लिए इस टीम को और ज्यादा तैयारी की जरूरत है लेकिन सुबह की शिफ्ट में खिलाड़ी बेहतरीन तरीके से अभ्यास कर रहे हैं। किसी भी टीम के लिए एक ही समय में टेस्ट और टी 20 टीम के तौर पर ट्रेनिंग लेना आसान नहीं होता। आम तौर पर टेस्ट मैच पहले होता है और फिर सिमिति ओवरों के मैचों की सीरीज खेली जाती है। हालांकि मैं दोनों प्रारूपों के लिए तय टीम के साथ पिछले दस दिनों से जब से टीम अपने दूसरे होम ग्राउंड पर आई है कड़ी मेहनत कर रहा हूं।

अफगानिस्तान की टीम इससे पहले ग्रेटर नोएडा की गर्म वातावरण के साथ देहरादून में प्रैक्टिस कर चुकी है और खिलाड़ी यहां की कंडीशन के साथ पूरी तरह से घुलमिल चुके हैं। देहरादून रविवार को भारत का 51वां इंटनैशनल वेन्यू बन जाएगा। हालांकि रमजान के महीने में खिलाड़ियों के लिए फास्टिंग के दौरान प्रैक्टिस करना काफी चुनौतीभरा है।

टी20 मैचों में अफगानिस्तान ने बांग्लादेश का सामना इससे पहले सिर्फ एक बार किया है। वर्ष 2014 टी20 विश्व कप में ये दोनों टीमें क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप में एक-दूसरे के आमने-सामने आए थे। इस मैच में बांग्लादेश ने अफगानिस्तान को 9 विकेट से हराया था। युद्ध से प्रभावित अफगानिस्तान की टीम अब उस वक्त से काफी आगे निकल आई है और वो इस स्थिति में है कि वो टॉप की टीमों को भी आश्चर्यचकित कर सकती है। इस टीम के स्टार स्पिनर राशिद खान टीम के लिए इस सीरीज में अहम भूमिका निभाएंगे। राशिद खान पिछले दिनों लॉर्ड्स में आइसीसी वर्ल्ड इलेवन की तरफ से वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच खेलने गए थे और उम्मीद है कि वो मैच से पहले टीम के साथ जुड़ जाएंगे।

बांग्लादेश की टीम इस सीरीज के लिए चार दिन पहले ही देहरादून आ गई थी और यहां कि कंडीशन के साथ उसके खिलाड़ी ताममेल बिठाने की कोशिश कर रहे हैं। बांग्लादेश की टीम में टीम के स्टार गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहमान नहीं है। आइपीएल के दौरान इंजर्ड होने की वजह से रहमान इस सीरीज से बाहर हो गए थे। उम्मीद की जा रही है कि इन दोनों देशों के बीच लाइट्स के अंदर होने वाले इस मैच को देखने के लिए बड़ी संख्या में दर्शक आ सकते हैं। इस स्टेडियम की क्षमता 25000 लोगों की है। 

फीफा विश्व कप की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप