नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार साल 2018 के बाद से टेस्ट टीम से बाहर चल रहे हैं। जनवरी 2018 में टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका को तीसरे मैच में टेस्ट सीरीज के दौरान हराया था और ये भुवी का भारत के लिए आखिरी टेस्ट मैच था। भुवी इस मुकाबले में प्लेयर ऑफ द मैच भी चुने गए थे। जब इंग्लैंड दौरे व वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए टीम इंडिया का एलान हुआ था तब भी भुवी को टीम में जगह नहीं दी गई थी जबकि इंग्लैंड की कंडीशन में वो भारत के लिए काफी फायदेमंद हो सकते थे। 

कई लोगों का मानना है कि, भुवी पिछले दिनों काफी चोटिल रहे हैं जिसकी वजह से उन्हें टेस्ट टीम में शामिल नहीं किया गया तो वहीं ये भी खबर सामने आई थी कि, वो टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलना चाहते हैं। हालांकि बाद में उन्होंने इस खबर को पूरी तरह से गलत बताया था। बहरहाल बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने टाइम्स ऑफ इंडिया को जानकारी देते हुए कहा कि, भुवी को जल्दबाजी में टेस्ट क्रिकेट में वापसी नहीं करवाई जाएगी। खासकर तब जब तक की टी20 वर्ल्ड कप 2021 खत्म नहीं हो जाता। 

बोर्ड के अधिकारी ने कहा कि, बीसीसीआइ ने भुवनेश्वर कुमार से चर्चा की है और ये तय किया गया है कि, टी20 वर्ल्ड कप से पहले उन्हें टेस्ट मैच खेलने के लिए प्रेरित नहीं किया जाएगा। उन्होंने पिछले तीन साल से टेस्ट क्रिकेट में हिस्सा नहीं लिया है और इसके लिए उन्हें पहले तीन-चार फर्स्ट क्लास मैच खेलने हैं क्योंकि अगर वो अचानक से टेस्ट क्रिकेट खेलते हैं तो उनके इंजरी की संभावना बढ़ जाएगी। आपको बता दें कि, इस वक्त भुवी टीम इंडिया के साथ श्रीलंका दौरे पर हैं और टीम के उप-कप्तान हैं। भारत ने श्रीलंका के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज जीत 2-1 से जीत ली है। 

Edited By: Sanjay Savern