कराची, एएनआइ। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन एहसान मनी ने रविवार को कन्फर्म किया कि, अगर भारतीय क्रिकेट टीम वर्ल्ड टेस्ट चैंपिनयनशिप के फाइनल में पहुंच जाती है तो इस साल जून में आयोजित किए जाने वाले एशिया कप के आयोजन पर पानी फिर सकता है। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि, भारत के फाइनल में पहुंचने की सूरत में एशिया कप का आयोजन स्थगित भी हो सकता है। 

एशिया कप हो सकता है स्थगित

एहसान मनी ने कराची में एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि, एशिया कप का आयोजन पिछले साल ही किया जाना था, लेकिन इसे 2021 के लिए स्थगित कर दिया गया था। अब ऐसा लग रहा है कि, इस साल भी इस टूर्नामेंट का आयोजन नहीं हो पाएगा क्योंकि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल मैच जून में खेला जाना है। श्रीलंका ने कहा था कि, वो एशिया कप को जून में आयोजित करने की कोशिश करेंगे। अब टेस्ट चैंपियनशिप की डेट एशिया कप के साथ क्लैश कर रही है और ऐसे में ये टूर्नामेंट शायद इस साल नहीं खेला जा सकेगा और इसे 2023 तक के लिए स्थगित किया जा सकता है। 

पीसीबी के सीईओ वसीम खान ने भी कहा कि, ऐसा लगता है कि, भारत वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंच जाएगा और ऐसे में एशिया कप को स्थगित करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि, वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत का सामना न्यूजीलैंड के साथ होगा और ऐसे में जिस एशिया कप जिसका आयोजन श्रीलंका में किया जाना था, इस बार नहीं खेला जा सकेगा। हालांकि हम रिजल्ट का इंतजार कर रहे हैं कि, क्या होगा, लेकिन अगर इसका आयोजन नहीं हो पाता है तो हम इसके भविष्य पर प्लानिंग करेंगे। 

यूएई हो सकता है टी20 वर्ल्ड कप 2021 के आयोजन का दूसरा विकल्प

वहीं एहसान मनी ने बताया कि, उन्होंने आइसीसी को एक पत्र लिखा है और टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारत द्वारा पाकिस्तानी खिलाड़ियों को वीजा देने की बात की पूरी जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि, इस साल अक्टूबर-नवंबर में भारत में टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन किया जाएगा। इसे लेकर हमने बीसीसीआइ से कहा है कि, हमें लिखित में दिया जाए की उनकी तरफ से हमारे खिलाड़ियों, क्रिकेट फैंस और पत्रकारों को वीजा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि, अगर भारत ऐसा नहीं कर पाता है तो टी20 वर्ल्ड कप को दूसरी जगह आयोजित करवाई जाए। उन्होंने कहा कि, हमें वीजा को लेकर चिंता है साथ ही साथ कोविड-19 महामारी भी बड़ी समस्या है। ऐसे में अगर भारत में इसका आयोजन नहीं किया जाता है तो इसे यूएई में आयोजित किया जा सकता है। मनी ने बताया कि, इन सारे मसलों पर आइसीसी की तरफ से कहा गया है कि, उन्हें 31 मार्च तक फाइनल फैसला बता दिया जाएगा। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप