पल्लेकल, जेएनएन। श्रीलंका टेस्ट क्रिकेट टीम के कप्तान दिनेश चंडीमल ने कहा है कि हम भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज 0-3 से नहीं गवाएंगे। हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि आखिरी टेस्ट मैच में अपने पिच और युवा तेज गेंदबाजों के दम पर हम भारतीय टीम को हरा दें।  

चंडीमल ने कहा कि अभी टेस्ट सीरीज खत्म नहीं हुई है और एक कप्तान के तौर पर मैं आखिरी मैच गवांना नहीं चाहता। बेशक भारतीय टीम टेस्ट की नंबर एक टीम है और हम आठवें नंबर पर हैं लेकिन हम ये मैच नहीं हारना चाहते। हम ये मैच जीतना चाहते हैं और इसके लिए हम पूरी मेहनत कर रहे हैं लेकिन परिणाम पर हमारा नियंत्रण नहीं है। उन्होंने कहा कि टेस्ट सीरीज में श्रीलंका फिलहाल 0-2 से पीछे है और हम पर दवाब है लेकिन हमारी टीम काफी अच्छी है। एक टीम के तौर पर हम ये मुकाबला जीतना चाहते हैं और अगर हम ऐसा करने में कामयाब रहे तो टीम में आत्मविश्वास आएगा और इससे हमें आगे मदद मिलेगी। 

श्रीलंका की टीम में चोटिल रंगना हेराथ और नुवान प्रदीप की जगह दुष्मंथा चमीरा और लाहिरु गमागे को शामिल किया गया है। मेजबान टीम को पल्लेकल में एक बेहतरीन पिच की उम्मीद है और इस पिच पर घास को काट दिया गया है। चंडीमल ने कहा कि हेराथ का टेस्ट से बाहर होना हमारे लिए बड़ा झटका है लेकिन उनकी जगह खिलाड़ियों को टीम में शामिल किया गया है। वो बैक पेन से जूझ रहे हैं इसलिए हमने इस मैच के लिए उन्हें आराम दिया है। लाहिरु गमागे और विश्वा फर्नांडों अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं। इस वक्त चोट की वजह से टीम के दो सीनियर गेंदबाज बाहर हैं और ऐसे में उनके पास खुद को साबित करने का शानदार मौका है। मुझे पूरी उम्मीद है कि ये दोनों इस मौके का पूरा इस्तेमाल करेंगे। 

चंडीमल ने कहा कि भारतीय टीम इस वक्त जबरदस्त प्रदर्शन कर रही है खास तौर पर पिछले दो-तीन साल में उनका प्रदर्शन कमाल का रहा है। हमारी टीम के लिए सबसे बड़ा झटका ये रहा कि कई अहम खिलाड़ी सीरीज से पहले या सीरीज के दौरान चोटिल होकर टीम से बाहर हो गए। हालांकि जडेजा के बारे में उन्होंने कहा कि वो इस वक्त टेस्ट के नंबर एक गेंदबाज हैं और उनके टीम में नहीं होने का फायदा हमें जरूर मिलेगा। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस