नई दिल्ली, जेएनएन। Virat Kohli found guilty: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले गए तीन टी20 इंटरनेशनल मैचों की सीरीज के आखिरी मुकाबले में ऐसा कुछ किया जिसकी वजह से उन्हें आइसीसी की आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। इस बात को लेकर विराट कोहली को आइसीसी की ओर से आधिकारिक चेतावनी भी मिल गई है। 

दरअसल, कप्तान विराट कोहली को आइसीसी कोड ऑफ कंडक्ट के लेवल 1 को तोड़ने का दोषी पाया गया है, जिसके लिए उनके खाते में एक डेमेरिट प्वाइंट जोड़ दिया गया है। साथ ही साथ विराट कोहली को आधिकारिक चेतावनी भी दे दी गई है। विराट कोहली ने आइसीसी की आचार संहिता के आर्टिकल 2.12 को तोड़ा है, जिसमें आप मैच के दौरान किसी भी खिलाड़ी, अंपायर, मैच रेफरी और किसी अन्य शख्स को अनुचित शारीरिक संपर्क नहीं कर सकते। 

इसी नियम को तोड़ने के चलते विराट कोहली के अनुशासनात्मक रिकॉर्ड में एक डेमेरिट अंक जोड़ा गया है। सितंबर 2016 के बाद से विराट कोहली ने ऐसा तीसरी बार किया जब उनके खाते में तीसरा अंक जुड़ा है। इससे पहले विराट कोहली को साउथ अफ्रीका के खिलाफ 15 जनवरी 2018 को खेले गए टेस्ट मैच के लिए और वर्ल्ड कप 2019 में अफगानिस्तान के खिलाफ 22 जून 2019 को खेले गए लीग मैच के लिए भी एक-एक डेमेरिट अंक मिल चुका है। 

ये था India vs South Africa 3rd Match का पूरा मामला

रविवार को ये घटना उस समय घटी जब भारतीय टीम की पारी का पांचवां ओवर प्रगति पर था, जब विराट कोहली ने रन लेते समय साउथ अफ्रीका के गेंदबाज ब्यूरन हैंड्रिक्स से फिजीकली कॉन्टेक्ट किया था। विराट कोहली ने इस आरोप को स्वीकार कर लिया है और आइसीसी के एलीट पैनल के मैच रेफरी रिची रिचर्डस ने कहा है कि अब इस पर कोई सुनवाई नहीं होगी। 

मैदानी अंपायर नितिन मेनन और सीके नंदन, थर्ड अंपायर अनिल चौधरी और फोर्थ ऑफिशियल शमशुद्दीन ने विराट कोहली पर ये चार्ज लगाए थे। आपको बता दें कि आइसीसी की आचार संहिता के लेवल एक को तोड़ने पर आपको कम से कम सजा के तौर पर एक आधिकारिक चेतावनी, 50 फीसदी मैच फीस या फिर एक या दो डेमेरिट प्वाइंट मिलते हैं।  

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप