नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ ने ये साफ कर दिया है कि भारतीय टीम सीमित ओवरों के 6 मैचों की सीरीज खेलने के लिए श्रीलंकाई दौरे पर जाने के लिए तैयार है, क्योंकि श्रीलंका में कोरोना वायरस का प्रकोप ज्यादा नहीं हैं और वहां हालात भी सामान्य हैं, लेकिन भारत में कोरोना वायरस महामारी ने अपना रौद्र रूप दिखाना जारी रखा है, जिसके कारण भारतीय टीम के श्रीलंका दौरे पर जाने की संभावना बन रही है।

बीसीसीआइ ने कहा है कि 3-3 मैचों की वनडे और टी20 सीरीज के लिए भारतीय टीम श्रीलंकाई दौरे पर जा सकती है, लेकिन हमें सरकार की अनुमति की जरूरत होगी। बीसीसीआइ के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने कहा है, "यह सब लॉकडाउन पाबंदी और यात्रा प्रतिबंध से संबंधित सरकारी निर्देशों पर निर्भर करता है। यदि हम अपने खिलाड़ियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य से समझौता नहीं करते हैं तो हम यात्रा के लिए खुले हैं।"

यह बीसीसीआइ को श्रीलंकाई बोर्ड(एसएलसी) के पत्र के जवाब में था, जिसमें पड़ोसी मुल्क श्रीलंका के क्रिकेट बोर्ड के अधिकारी ने पत्र लिखकर कहा था कि जुलाई के अंत में वे खाली स्टेडियम के छह मैचों (3 वनडे, 3 टी 20 आई) की सीरीज के लिए भारत की मेजबानी करना चाहते हैं, लेकिन इसके लिए भारतीय खिलाड़ियों को 14 दिन के क्वारंटाइन समय का पालन करना होगा। श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड ने आइपीएल की मेजबानी की पेशकश भी पहले की है।

25 मार्च से देशव्यापी लॉकडाउन के बाद से भारतीय खिलाड़ी घरों में कैद हैं। मेट्रो शहरों में रहने वाले अधिकांश खिलाड़ियों को फिटनेस के लिए सीमित कर दिया गया है, जिसमें दौड़ने की जगह भी नहीं है। भारतीय बोर्ड अभी भी सरकारी निर्देशों की प्रतीक्षा कर रहा है, इससे पहले कि वे खिलाड़ियों के लिए एक आउटडोर कौशल शिविर का आयोजन कर सकें। इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय यात्रा फिर से शुरू नहीं हुई है।

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस