पुणे, जेएनएन। भारतीय टीम के मुख्य कोच अनिल कुंबले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरू हो रही टेस्ट सीरीज से पहले काफी सतर्क हैं। न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में खिलाड़ियों के लगातार चोटिल होने को लेकर इस बार कुंबले सतर्क हैं और इसीलिए घरेलू सीरीज में भी 16 सदस्यीय टीम का चयन किया गया है जिससे चोट लगने की दशा में बैकअप तैयार रहे।

कुंबले ने कहा कि टीम घरेलू सीरीज के लिए भी 16 खिलाड़ियों के साथ है और यह टीम के लिए फायदेमंद बात है। इस पर कुंबले ने कहा कि ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि कुछ घटनाओं जैसे चोटिल होने को कवर किया जा सकता है। हम किसी भी परिस्थिति के लिए विकल्प अपने पास रखना चाहते हैं। बीते समय में हमें मैच से पहले या मैच के दिन चोटों का सामना करना पड़ा। हम टीम को एकजुट रखना चाहते हैं।

टीम के साथ कुछ घरेलू गेंदबाज भी रखे गए हैं। कोच ने कहा कि भविष्य की जरूरतों को देखते हुए ऐसा किया गया है। गेंदबाज अनिकेत चौधरी, बासिल थंपी, नाथू सिंह को टीम के साथ जोड़ा गया है। न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में हमने जयंत यादव को टीम का हिस्सा बनाया, जिसने हमें टेस्ट की तैयारी में मदद की।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

मुझे इनके साथ काम करने का मौका नहीं मिला। मुझे अन्य घरेलू गेंदबाजों को देखने का समय बहुत कम मिलता है इसलिए मैं उन्हें टेस्ट मैच से पहले जोड़े रखने की कोशिश करता हूं। ऐसा जरूरी नहीं है कि वे निकट भविष्य में टीम का हिस्सा होंगे, लेकिन आगामी सीरीज को देखते हुए या इससे पहले उन्हें रणनीति में शामिल रखना अच्छा है।

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Bharat Singh