नई दिल्ली। टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले ये कहा जा रहा था कि भारतीय स्पिनर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को धूल चटा देंगे लेकिन पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में जो हुआ उससे तो यही लगने लगा है कि भारतीय टीम के लिए अब ये टेस्ट जीत पाना जरा मुश्किल है। पिच का जो मिजाज है उस हिसाब से मैच जीतने के लिए ऑस्ट्रेलिया के पास पर्याप्त रन है और मैच को बचा पाना भारतीय बल्लेबाजों के लिए मुश्किल लग रहा है। 

पहली पारी में तो भारतीय बल्लेबाजों का रहा बुरा

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली पारी में लोकेश राहुल को छोड़ दें तो ऑस्ट्रेलियाई अटैक के आगे कोई टिक ही नहीं पाया। विरोधी टीम के स्पिनर और तेज गेंदबाजों ने नंबर एक भारतीय टीम के बल्लेबाजों की खासी क्लास लगा दी। पिछले दिनों जिस तरह से भारतीय बल्लेबाजों का टेस्ट में प्रदर्शन रहा था इस पारी में तो ठीक इसके उल्टा हो रहा था। ऐसा लग रहा था जैसे हर भारतीय बल्लेबाज को पवेलियन जाने की जल्दी है। पहली पारी में भारत के 10 बल्लेबाज मिलकर सिर्फ 40 रन ही बना पाए। वैसे भारत ने कुल 105 रन बनाए जिसमें लोकेश राहुल के 64 रन थे और एक एक्सट्रा रन। 

10 बल्लेबाजों के कुल 40 रन

भारत की तरफ से पहली पारी में मुरली विजय (10 रन), चेतेश्वर पुजारा (6 रन), विराट कोहली (0 रन), अजिंक्य रहाणे (13 रन), आर. अश्विन (1 रन), रिद्धमान साहा (0 रन), रवींद्र जडेजा (2 रन), उमेश यादव (4 रन), जयंत यादव (2 रन) और इशांत शर्मा ने नाबाद 2 रन की पारी खेली। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern