नई दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने वेस्टइंडीज द्वारा भारत के खिलाफ किंग्सटन टेस्ट ड्रॉ कराने के बाद टीम इंडिया के वर्तमान टेस्ट कप्तान विराट कोहली की रणनीति पर सवाल उठाए हैं। गांगुली के अनुसार कोहली को स्लो गेंदबाजों का अच्छी तरह उपयोग करना चाहिए और उमेश यादव को अटैकिंग गेंदबाज के रूप में देखना चाहिए।

गांगुली के अनुसार विराट को दूसरे टेस्ट मैच में अमित मिश्रा की जगह रविचंद्रन अश्विन को पहले गेंदबाजी सौंपनी चाहिए थी। पहली पारी में 304 रनों से पिछड़ने के बाद वेस्टइंडीज दूसरी पारी में 48 रनों पर 4 विकेट खोकर संकट में था। लेकिन रोस्टन चेज (137 नाबाद) की अगुआई में मध्यक्रम के बल्लेबाजों के जुझारू प्रदर्शन की बदौलत वेस्टइंडीज ने 6 विकेट पर 388 रन बनाते हुए मैच ड्रॉ करवा लिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गांगुली ने कहा, विराट के पास पांच विशेषज्ञ गेंदबाज थे, लेकिन वे उनका लाभ नहीं उठा पाए। मुझे लगता है कि अंतिम दिन की शुरुआत में जब विराट ने अमित को गेंद सौंपी उनकी बजाए उन्हें अश्विन को गेंदबाजी पर लगाना चाहिए था। अश्विन हमारे मुख्य गेंदबाज है और वे लय में भी है जिसके चलते उन्हें ज्यादा मौका दिया जाना चाहिए था। इसी तरह इस मैच में उमेश यादव से ज्यादा गेंदबाजी नहीं करवाई गई, जबकि उनका अच्छी तरह उपयोग किया जाना चाहिए।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Mohit Tanwar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस