नई दिल्ली, जेएनएन। वर्ल्ड कप के बाद से लगातार खराब फॉर्म से जूझ रहे शिखर धवन (Shikhar Dhawan) अपनी बल्लेबाजी पर जमकर मेहनत कर रहे हैं और इसके लिए वो अपनी घेरलू टीम दिल्ली की तरफ से इन दिनों विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy 2019) में भी खेल रहे हैं। हालांकि साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी 20 सीरीज में उनकी बल्लेबाजी ठीक-ठाक रही थी, फिर भी वो अपनी बल्लेबाजी पर और ज्यादा काम करना चाहते हैं। टीम इंडिया इस वक्त टेस्ट सीरीज खेल रही है पर धवन टेस्ट टीम में नहीं हैं और हो सकता है वो क्रिकेट के लंबे प्रारूप में भी वापसी चाहते हों जिसके लिए घरेलू स्तर पर रन बनाना बेहद जरूरी है। 

इस वक्त धवन विजय हजारे ट्रॉफी में दिल्ली (Delhi) का हिस्सा हैं और इस टूर्नामेंट के एक मुकाबले में बड़ौदा (Baroda) के खिलाफ उनका बल्ला नहीं चला। इस मैच में दिल्ली की टीम ने पहले बल्लेबाजी की। ग्रुप बी के इस मैच में गेंदबाजों का ही जलवा दिखा। पहले खेलते हुए दिल्ली की टीम ने इस मैच में 148 रन बनाए और पूरी टीम 37.4 ओवर में ऑल आउट हो गई। टीम के अहम बल्लेबाज ओपनर शिखर धवन का बल्ला नहीं चला और वो सिर्फ 7 रन बनाकर आउट हो गए। हालांकि दिल्ली की टीम इस मुकाबले में ज्यादा रन नहीं बना पाई, लेकिन फिर भी उसे 10 रन से जीत मिली। इस मैच को बारिश की वजह से 38-38 ओवर का कर दिया गया था। 

बड़ौदा की टीम को इस मैच में जीत के लिए 149 रन का लक्ष्य मिला था, लेकिन इस टीम की हालत भी इस स्कोर तक पहुंचते-पहुंचते खराब हो गई। इस मैच में टीम के ओपनर केदार देवधर को छोड़कर अन्य कोई भी बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सका। वैसे केदार ने भी सिर्फ 20 रन बनाए। बड़ौदा के कप्तान कृणाल पांड्या (Krunal Pandya) ने भी 16 गेंदों पर 4 चौकों की मदद से 20 रन बनाए, लेकिन उनकी और केदार की ये पारी जीत के लिए काफी नहीं थे। दिल्ली की तरफ से नवदीप सैनी ने अच्छी गेंदबाजी की और तीन विकेट चटकाए जबकि पवन नेगी और कुलवंत खजरोलिया को दो-दो सफलता मिली। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप