मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

कराची, (प्रेट्र)। पाकिस्तान राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाज शरजील खान और खालिद लतीफ ने अपने ऊपर लगे पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों को नकार दिया है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) द्वारा इन दोनों खिलाड़ियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है, जिसके बाद इन दोनों खिलाड़ियों ने स्पॉट फिक्सिंग में शामिल होने के आरोपों को बेबुनियाद करार दिया।

ताजा खबरों के मुताबिक अपने वकीलों के जरिए इन दोनों खिलाड़ियों ने इन सभी आरोपों को गलत बताया है। एक सूत्र ने बताया कि, 'इन दोनों खिलाड़ियों ने कहा है कि वो यूसुफ नाम के एक आदमी से पाकिस्तान के ओपनर नासिर जमशेद के कहने पर मिले थे। उनके मुताबिक वे यूसुफ को अपना फैन समझते हुए मिलने गए थे लेकिन जब उसने उन्हें प्रस्ताव दिए (फिक्सिंग से जुड़े) तो दोनों वहां से चले गए।' नियम के मुताबिक ऐसी स्थिति में दोनों खिलाड़ियों को इसकी सूचना पीसीबी की एंटी करप्शन यूनिट को देनी थी लेकिन ऐसा नहीं हुआ जिसके बाद इन दोनों के खिलाफ एक्शन लिया गया। अब एक तीन सदस्यीय ट्रिब्यूनल गठित किया गया है जो कि इस मामले की सुनवाई करेगा। इस ट्रिब्यूनल का प्रमुख एक जज होगा।

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

गौरतलब है कि शरजील खान और खालिद लतीफ को पीसीबी के एंटी करप्शन कोड के तहत फिक्सिंग के आरोप में निलंबित कर दिया गया था। दोनों को पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) के दौरान ही दुबई से स्वदेश रवाना कर दिया गया था। इन दोनों खिलाड़ियों के ऊपर कई गंभीर आरोप लगाए गए हैं जिसमें मैच फिक्स करना और सट्टेबाजों के संपर्क में रहना शामिल है।

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Shivam

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप