बेंगलुरू। भारतीय टीम प्रबंधन के लिए अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में फार्म में चल रहे सलामी बल्लेबाज केएल राहुल और करुण नायर में से किसी एक को अंतिम एकादश में जगह देना चुनौतीपूर्ण होगा।

इस मैच ने भारतीय थिंक टैंक को इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज से पहले उसके महत्वपूर्ण विकल्पों के बारे में सोचने का मौका भी दिया है। ऐसे में जब टीम के तीनों सलामी बल्लेबाज मुरली विजय, शिखर धवन और केएल राहुल तकनीकी तौर पर फिट हैं, मुख्य कोच रवि शास्त्री और कप्तान अंजिक्य रहाणे के लिए चनकर्ताओं (इस मैच के लिए देवांग गांधी और सरनदीप सिंह) के साथ मिलकर अंतिम एकादश का चयन मुश्किल होगा। बुधवार को अभ्यास के दौरान वरिष्ठ सलामी बल्लेबाजों शिखर धवन और मुरली विजय आराम कर रहे थे जबकि राहुल और करुण ने नेट पर पसीना बहाया। 

एमएसके प्रसाद की अगुआई वाली चयन समिति ने अभी तक विकल्प के तौर पर 'उसी के जैसे खिलाड़ी' को मौका देने की रणनीति अपनाई है। ऐसे में अगर नायर को मौका मिलता है तो वह मध्यक्रम में विराट की जगह नंबर चार पर बल्लेबाजी करने आ सकते हैं। दूसरा बड़ा सवाल यह है कि क्या अतिरिक्त स्पिनर के तौर पर चाइनामैन कुलदीप यादव को मौका दिया जा सकता है। अश्विन और जडेजा दोनों के अंतिम एकादश में शामिल होने की उम्मीद है लेकिन चिन्नास्वामी के विकेट के लिहाज से कुलदीप यहां उपयोगी साबित हो सकते हैं।

गौरतलब है कि भारत को अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच गुरुवार से बेंगलुरू में खेलना है। इस मैच के जरिए अफगानिस्तान की टीम टेस्ट में डेब्यू करेगा। इस मैच में विराट कोहली टीम की कप्तानी नहीं करेंगे। उनकी जगह टीम की कमान अजिंक्य रहाणे संभालेंगे। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern