फरीदाबाद। टीम इंडिया से बाहर चल रहे धुरंधर बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने घरेलू क्रिकेट में एक बड़ा कदम उठाया है। तमाम कयासों और अटकलों के बाद आखिरकार उन्होंने दिल्ली की टीम को छोड़ ही दिया। अब वो अगले घरेलू क्रिकेट सत्र में हरियाणा की टीम से खेलेंगे।

1997-98 से अब तक 18 सत्रों में दिल्ली की टीम का प्रतिनिधित्व कर चुके सहवाग ने कुछ दिनों पहले दिल्ली से एनओसी लिया था और अब वो हरियाणा क्रिकेट संघ की तरफ से खेलते नजर आएंगे। हरियाणा क्रिकेट संघ के सचिव अनिरुद्ध चौधरी के मुताबिक वीरू इसको लेकर काफी उत्साहित हैं। सहवाग ने कहा, 'इस घरेलू क्रिकेट सत्र में हरियाणा की तरफ से खेलने के लिए उत्सुक हूं। ये एक शानदार टीम है जिसमें युवा जोश भरपूर मौजूद है। एक ऐसे ड्रेसिंग रूम का हिस्सा बनकर काफी अच्छा लगेगा जिसमें युवा जोश मौजूद हो। मैं उनसे अपने अनुभव बांटने की कोशिश करूंगा और उम्मीद करता हूं कि इस दौरान कुछ के करियर को संवारने में योगदान दे सकूंगा। मैं हरियाणा के लिए इस सत्र में अच्छी बल्लेबाजी करने का प्रयास करूंगा।'

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

नजरफगढ़ में जन्में सहवाग ने कहा कि वो डीडीसीए को शुक्रिया कहना चाहते हैं जिसने इतने सालों तक उनको समर्थन दिया और खासतौर पर अरुण जेटली को जिन्होंने दिल्ली क्रिकेट के प्रमुख होने के दौरान सहवाग की काफी मदद की थी। सहवाग ने भारत के लिए 104 टेस्ट खेले हैं जिस दौरान उनके बल्ले से 8586 रन निकले और उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 23 शानदार शतक भी जड़े। वो भारत की तरफ से पहला तिहरा शतक और बाद में दो तिहरे शतक जड़ने वाले खिलाड़ी भी बने।

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Shivam