नई दिल्ली, जेएनएन। श्रीसंत भारतीय क्रिकेट टीम के बेहतरीन तेज गेंदबाज थे, लेकिन विवादों के साथ उनका गहरा नाता रहा और इसकी वजह से उनका इंटरनेशनल क्रिकेट करियर तबाह हो गया। भारत में इस वक्त कोविड 19 महामारी की वजह से चल रहे लॉकडाउन के दौरान रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह, केविड पीटरसन जैसे क्रिकेटर सोशल मीडीया पर लाइव सेशल के जरिए अपने फैंस से रूबरू हो रहे हैं। अब 37 साल के श्रीसंत भी इस लिस्ट में शामिल हो गए हैं और वो हेलो एप के जरिए अपने फैंस के साथ लाइव चैट सेशन किया। इस दौरान उनसे फैंस ने कई सवाल पूछे जिसका उन्होंने चौंकाने वाला उत्तर दिया। 

हेलो एप पर लाइव सेशन के दौरान एक फैन ने उनसे कहा कि आप अपने फेवरेट ऑल टाइम भारतीय कप्तान का चयन करें। इस सवाल पर वो थोड़ी देर तक चुप रहे और फिर कहा कि भारत को 1983 में वनडे विश्व कप दिलाने वाले कपिल देव उनके फेवरेट भारतीय कप्तान हैं। श्रीसंत का ये जवाब चौंकाने वाला रहा क्योंकि वो साल 2011 में जब Dhoni की कप्तानी में भारत ने दूसरी बार वनडे विश्व कप जीता था तब उस टीम का हिस्सा थे और फाइनल में भी खेले थे। 

श्रीसंत ने साल 2011 वनडे विश्व कप के अनुभव को भी शेयर किया। उन्होंने बताया कि फाइनल मैच के दौरान वो काफी नर्वस थे। फिर सचिन तेंदुलकर और युवराज सिंह ने उन्हें गेंदबाजी करने का हौसला दिया। सभी खिलाड़ी अपने घर में अपने घरेलू दर्शकों के सामने ये विश्व कप अपने देश और सचिन तेंदुलकर के लिए जीतना चाहते थे क्योंकि वो अपना आखिरी आइसीसी टूर्नामेंट खेल रहे थे। उन्होंने बताया कि विश्व कप जीतने का अहसास कमाल का था और वो नीली जर्सी में उनका भारत के लिए आखिरी वनडे था। 

श्रीसंत पर बीसीसीआइ ने 2014 आइपीएल में स्पॉट फिक्सिंग मामले में लिप्त रहने की वजह से बैन कर दिया था और पिछले साल सुप्रीम कोर्ट ने उनके इस बैन को खत्म कर दिया था जिसकी अवधि सितंबर 2020 में पूरी होने जा रही है। भारत के लिए 53 वनडे, 27 टेस्ट व दस टी20 इंटरनेशनल मैच खेलने वाले 37 साल के श्रीसंत को विश्वास है कि वो भारतीय टीम में वापसी करेंगे। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस