वेलिंग्टन। खराब फॉर्म, फिर एक जानलेवा झगड़ा, उसके बाद जिंदगी-मौत से कोमा में जूझते हुए न्यूजीलैंड के ऑलराउंडर जेसी रायडर ने एक बार फिर क्रिकेट के मैदान पर वापसी कर ली है। सात महीनों के बेहद खराब दौर के बाद रायडर ने जानदार शतक ठोंका और एक तरह से अपने जीवन को नई शुरुआत दी।

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

न्यूजीलैंड के घरेलू टूर्नामेंट प्रोविंशियल चैंपियनशिप के मैच में ओटागो अवे टीम की तरफ से खेलते हुए अपनी पुरानी टीम वेलिंगटन के खिलाफ रायडर ने शतक लगाकर वापसी की है। रायडर ने शानदार अंदाज में खेलते हुए 164 गेंदों में 117 रन बनाए। गौरतलब है कि क्राइस्टचर्च के साउथ आइलैंड सिटी के एक बार के बाहर इसी साल मार्च में रायडर को घातक हमले का सामना करना पड़ा था। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में कोमा में घोषित कर दिया गया था। बड़ी मुश्किल के बाद वह उस स्थिति से बाहर तो आए लेकिन फिर भी मुसीबतों ने उनका पीछा नहीं छोड़ा और कुछ ही समय के बाद वजन घटाने के लिए प्रतिबंधित दवाओं के सेवन करने व डोप टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन पर 6 महीनों का बैन लगा दिया गया।

29 वर्षीय रायडर ने 2012 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से खुद यह कहकर किनारा कर लिया था कि उन्हें कुछ निजी मामलों को पहले सुलझाना है। अब उन्होंने लंबे उतार-चढ़ाव भरे समय के बाद न्यूजीलैंड टीम में वापसी की इच्छा जताई है। रायडर एक बेहतरीन बल्लेबाज और ऑलराउंडर हैं, 33 टेस्ट पारियों में उनका औसत 40.93 का रहा है लेकिन अपनी निजी जिंदगी की उथल-पुथल और अनुशासन के विपरीत चलना उनके करियर के लिए अब तक काफी घातक साबित हुआ।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस