नई दिल्ली, जागरण न्यूज नेटवर्क। दिवंगत भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के बेटे रोहन जेटली का दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) का अध्यक्ष बनना लगभग तय हो गया है। उनके खिलाफ नामांकन भरने वाले एकलौते उम्मीदवार ने भी अपना नाम वापस ले लिया है। ऐसे में रोहन जेटली निर्विरोध डीडीसीए की कमान संभालने के लिए तैयार हैं। जल्द ही आधिकारिक रूप से उनकी ताजपोशी हो जाएगी।

डीडीसीए के पूर्व प्रमुख अरुण जेटली के बेटे रोहन जेटली को पहले से ही डीडीसीए के अधिकतर गुटों का समर्थन प्राप्त है। ऐसे में उनके अध्यक्ष बनने का रास्ता एकदम साफ हो गया है। बता दें कि 17 से 20 अक्टूबर को डीडीसीए के अध्यक्ष और कोषाध्यक्ष सहित कुल छह पदों पर उपचुनाव होना है, लेकिन अब अध्यक्ष के पद पर चुनाव नहीं होगा, क्योंकि रोहन जेटली के अलावा सुनील कुमार गोयल ने नामांकन दाखिल किया था, लेकिन अब उन्होंने अपना नामांकन वापस ले लिया है।

गौरतलब है कि वरिष्ठ टीवी पत्रकार रजत शर्मा के इस्तीफा देने के कारण दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन का अध्यक्ष पद खाली हो गया था। अब इस कुर्सी पर रोहन जेटली विराजमान होंगे और चुनाव नहीं होगा। कोषाध्यक्ष पद के लिए पूर्व बीसीसीआइ अध्यक्ष सीके खन्ना की पत्नी शशि खन्ना ने नामांकन भरा है। डीडीसीए के लोकपाल दीपक वर्मा द्वारा लोढ़ा समिति की सिफारिशों के उल्लंघन के कारण भाजपा विधायक ओपी शर्मा को हटाने के कारण कोषाध्यक्ष का पद खाली हुआ था। इसके अलावा चार निदेशकों का भी चुनाव होना है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस