नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने एक बार फिर साबित कर दिया कि उम्र बस एक नंबर के अलावा कुछ भी नहीं है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के 9 साल बाद भी न तो उनके बल्ले की धार कम हुई है और न ही खेलने का अंदाज बदला है। सचिन तेंदुलकर ने रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज के 14वें लीग मैच में इंग्लैंड लीजेंड्स के खिलाफ एक ऐसी पारी खेली जिसे देखकर सभी क्रिकेट फैंस को उनके द्वारा शारजाह स्टेडियम में साल 1998 में खेले गए  'डेजर्ट स्टॅार्म' वाली पारी याद आ गई।

सचिन तेंदुलकर ने इंग्लैंड लीजेंड्स के खिलाफ खेली तूफानी पारी  

49 वर्षीय सचिन तेंदुलकर ने इंग्लैंड लीजेंड्स के खिलाफ गुरुवार को देहरादून में सिर्फ 20 गेंदों पर 200 की स्ट्राइक रेट से 40 रन की धमाकेदार पारी खेली है। इस पारी में उन्होंने 3 चौके और 3 छक्के जड़े। गौरतलब है कि इस मैच में सचिन ने दो गेंदों पर दो लगातार छक्के मारे। उनकी इस पारी के बदौलत इंडिया लीजेंड्स  टीम 15 ओवर में 170 रन बनाने में कामयाब रही। इस मुकाबले को इंडिया लीजेंड्स ने 40 रन से जीत लिया। 

बता दें कि इस मैच में उन्होंने पारी की शुरुआत सिंगल से की। सचिन ने इंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज क्रिस ट्रेमलेट को दो छक्के और एक चौके लगाए। सचिन तेंदुलकर द्वारा लगाए गए दूसरे छक्के ने शारजाह में 1998 की डेजर्ट स्टॉर्म पारी की याद दिला दी। इस मैच को देखने के बाद सोशल मीडिया पर फैंस ने अगल-अगल प्रतिक्रियाएं साझा की है। 

-- टी-20 विश्वकप के लिए ओपन मिल गया

-- क्या हम साल 1998 में हैं

-- भगवान हमेशा रहते हैं

-- याद आ गया शारजाह का मुकाबला

बता दें कि इस समय खेले जा रहे रोड सेफ्टी सीरीज में सचिन तेंदुलकर जबरदस्त लय में दिख रहे हैं। इस सीरीज में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 16 रन की पारी खेली। वहीं, न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्होंने 13 गेंदों पर 19 रन बनाए। इस मैच में उन्होंने शेन बॉन्ड की गेंद पर एक पुल, एक लैप शॉट और बैकफुट पर उनका ट्रेडमार्क पंच शॅाट भी लगाए।

Edited By: Piyush Kumar