नई दिल्ली, आइएएनएस। टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी की तरफदारी करते हुए उनके आलोचकों को करारा जवाब दिया है। रवि शास्त्री ने उन सभी को जवाब दिया है जो कह रहे हैं कि धौनी के भविष्य पर स्पष्टता की कमी है। रवि शास्त्री ने कहा है पूर्व कप्तान धौनी कब संन्यास लेना है इसका फैसला वे खुद करेंगे।

कोच रवि शास्त्री ने सौरव गांगुली के BCCI के नए अध्यक्ष चुने जाने के बाद उनकी शान में कसीदे पढ़ते हुए धौनी के भविष्य को लेकर भी एक वेबसाइट को बयान दिया है और कहा है, "आधे लोग वे एमएस धौनी पर कमेंट करते हैं जो उनके जूते के फीते बांधने लायक नहीं हैं। एक बार देखो उन्होंने देश के लिए क्या अर्जित किया है। पता नहीं क्यों लोग धौनी को रिटायर करने की जल्दी में हैं। हो सकता है कि उन्हें धौनी के बारे ज्यादा बिंदु न मिले हों, जिन पर बात सके।"

धौनी पर उंगली उठाना उनका अपमान करने जैसा- शास्त्री

कोच शास्त्री ने आगे कहा है, "वह और हर कोई उन्हें जानता है कि वह जल्दी है क्रिकेट को अलविदा कह देंगे। इसलिए, ये सब उस समय के लिए छोड़ जब ये होना है। उनके कामों पर उंगली उठाना सर्वथा अपमानजनक है। भारतीय टीम के लिए 15 साल तक खेलने के बाद क्या उन्हें नहीं पता होगा कि उनके लिए क्या करना सही है? मैं कहना चाहता हूं कि एमएस धौनी ने वो मुकाम हासिल कर लिया है वे खुद जब चाहेंगे तब संन्यास का ऐलान कर देंगे। और इस बहस को एक बार और सभी के लिए खत्म होने कर देंगे।" 

गौरतलब है कि एमएस धौनी ने बतौर कप्तान भारतीय टीम को टी20 वर्ल्ड कप, वनडे वर्ल्ड कप और आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी जिताई है। ऐसा करने वाले वे भारत ही नहीं, बल्कि दुनिया के पहले कप्तान हैं। इसके अलावा टेस्ट क्रिकेट में भी धौनी का रिकॉर्ड काफी शानदार रहा है। विराट से पहले वे भारत के पहले सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने वाले कप्तान थे। 

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप