मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

चेन्नई। टीम इंडिया इस समय श्रीलंका में तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-1 की बराबरी पर चल रही है और टीम की इस सफलता में भारतीय स्पिनर्स की अहम भूमिका है। रविचंद्रन अश्विन और अमित मिश्रा अभी तक 29 विकेट हासिल कर चुके हैं और इनकी सफलता का पूरा श्रेय चेन्नई के तीन गुरुओं को जाता है।

सुनील सुब्रमण्यम, लक्ष्मण शिवरामकृष्णन और भरत अरूण की मेहनत से ये दोनों स्पिनर्स श्रीलंका में कहर बरपा रहे हैं। इन तीनों का चेन्नई क्रिकेट में चेमप्लास्ट की वजह से कनेक्शन रहा है।

48 वर्षीय सुब्रमण्यम लंबे समय से अश्विन को ट्रेनिंग दे रहे हैं तो पूर्व भारतीय लेग स्पिनर शिवरामकृष्णन कई महीनों से मिश्रा का पैंनापन बढ़ा रहे हैं। ये दोनों गुरु खुश है क्योंकि इनके शिष्य टीम इंडिया के गेंदबाजी कोच 52 वर्षीय बी. अरूण के मार्गदर्शन में तरक्की कर रहे हैं। अश्विन तो चेन्नई के ही है।

सुब्रमण्यम के मुताबिक अश्विन की सफलता में दो पहलू है। पहला यह कि उन्हें हाल ही में बिटिया हुई है और ऐसा माना जाता है कि बिटिया भाग्य को साथ लेकर आती है। दूसरा यह कि अश्विन ने अपनी गेंदबाजी में काफी सुधार किया है। इसी वजह से वे दो टेस्ट में 17 विकेट झटककर रिकॉर्ड बना चुके हैं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: sanjay savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप