नई दिल्ली, जागरण स्पेशल। ICC Cricket World Cup 2019: ये सच है कि इतिहास खुद को दोहराता है। ऐसा ही एक इतिहास पाकिस्तान की टीम को World Cup 2019 में दो रहा है। पाकिस्तानी टीम के साथ एक नहीं बल्कि 3-3 संयोग हो रहे हैं, जिनसे लग रहा है कि इस बार सरफराज अहमद वाली पाकिस्तानी टीम साल 1992 की इमरान खान वाली टीम का इतिहास दोहरा कर वर्ल्ड कप अपने नाम करेगी। 

पाकिस्तान के साथ पहला संयोग

पाकिस्तान इस बार वर्ल्ड कप जीत सकती है क्योंकि पाकिस्तान के साथ संयोग इस तरह है कि पाकिस्तान ने अब तक खेले 7 मुकाबलों में से 3 हारे हैं, 3 जीते हैं, जबकि एक बेनतीजा रहा है। साल 1992 के वर्ल्ड कप के दौरान भी इमरान खान की टीम के साथ ऐसा ही हुआ था जब पाकिस्तान ने पहले 7 मैचों में 3 जीते, 3 हारे और एक बेनतीजा था। 

वर्ल्ड कप 1992 के पहले 7 मैच में पाकिस्तान का हाल- हार, जीत, बेनतीजा, हार, हार, जीत, जीत 

वर्ल्ड कप 2019 के पहले 7 मैच में पाकिस्तान का हाल- हार, जीत, बेनतीजा, हार, हार, जीत, जीत 

हैरान करने वाली बात ये है कि पाकिस्तान को उस वर्ल्ड कप में भी भारत से हार झेलनी पड़ी थी।

पाकिस्तान के साथ दूसरा संयोग

पाकिस्तान के साथ वर्ल्ड कप 2019 के पहले 7 मैचों में भले ही 1992 के वर्ल्ड कप जैसा हो रहा है। लेकिन, एक संयोग ऐसा भी है कि साल 1992 का वर्ल्ड कप भी रोबिन राउंड फॉर्मेट में खेला गया था। ऐसे में ये संयोग पाकिस्तान की जीत को और मजबूती प्रदान कर रहा है। हालांकि, ये आने वाला समय बताएगा कि पासा किस ओर पलटता है।

पाकिस्तान के साथ तीसरा संयोग

पाकिस्तान की टीम के साथ तीसरा वर्ल्ड कप जीतने का संयोग इस तरह है कि साल 1983 में भारत ने विश्व कप जीता। इसके बाद साल 1987 में ऑस्ट्रेलिया ने विश्व कप जीता था। वहीं, अगर इस तरह का संयोग वर्ल्ड कप 2019 के साथ देखें तो साल 2011 का वर्ल्ड कप भारत ने जीता और फिर साल 2015 का वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया ने जीता। इस तरह तीसरा संयोग ये है कि इस बार वर्ल्ड कप पाकिस्तान जीत सकता है।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vikash Gaur