नई दिल्ली, जेएनएन। पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में स्पॉट फिक्सिंग मामले में सलामी बल्लेबाज नासिर जमशेद की कथित भूमिका की जांच के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने दो सदस्यीय समिति का गठन किया है।

सेवानिवृत्त सुरक्षा निदेशक कर्नल मोहम्मद आजम और महाप्रबंधक (कानून) सलमान नासिर की यह समिति जमशेद के इम मामले में कथित संलिप्तता को लेकर पूछताछ के लिए ब्रिटेन जाएगी।

पाकिस्तान के अखबार डॉन के अनुसार, ब्रिटेन की राष्ट्रीय अपराध एजेंसी ने जमशेद को इस मामले में गिरफ्तार किया था और जमानत मिलने के समय जमशेद का पासपोर्ट अधिकारियों के पास ही था।

पीसीबी के अधिकारी ने कहा, ‘दो सदस्यों वाली पीसीबी की टीम में सेवानिवृत्त सुरक्षा निदेशक मोहम्मद आजम व महाप्रबंधक सलमान नासिर, जमशेद से पूछताछ करने के लिए ब्रिटेन जाएंगे’।

पीसीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले के पांच आरोपियों में शामिल तेज गेंदबाज मोहम्मद इरफान और सलामी बल्लेबाज खालिद लतीफ सोमवार को संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के सामने पेश हुए और अपने बयान दर्ज कराए।

अधिकारी ने कहा, ‘दोनों खिलाड़ियों ने एफआईए की साइबर अपराध टीम के सामने अपने बयान दर्ज कराए हैं और स्पॉट फिक्सिंग मामले में अपनी संलिप्ता से इनकार किया है’।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

स्पॉट फिक्सिंग मामले में निलंबन झेल रहे खिलाड़ियों में शरजील खान और शहजेब हसन लाहौर में एफआईए के सामने पेश होंगे और अपने बयान देंगे। एक रिपोर्ट के मुताबिक एफआईए इन चारों खिलाड़ियों के मोबाइल फोन को अपने पास नहीं रख सकता।

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Pradeep Sehgal