नई दिल्ली, प्रेट्र। टी20 विश्व कप 2020 के आयोजन को लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है और आइसीसी ने इस पर अब तक कोई ठोस फैसला नहीं लिया है। कोविड-19 महामारी के बीच इस बड़े टूर्नामेंट का आयोजन किस प्रकार से किया जाएगा ये काफी कठिन चुनौती है। अब ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज माइकल हसी ने टी20 वर्ल्ड कप की मेजबानी को लेकर अपनी चिंता जाहिर की और कहा का इस संकट की स्थिति में 16 टीम का टूर्नामेंट लॉजिस्टिक के हिसाब से दुस्वप्न यानी बुरा सपना साबित हो सकता है। 

कोविड 19 महामारी की वजह से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया यानी सीए ने पहले ही कह दिया है कि इस परिस्थिति में टी20 वर्ल्ड कप का अपने तय समय पर आयोजन किया जाना अव्यवहारिक है। वहीं माइकल हसी को भी ऐसा लगता है कि इस साल शायद ही इस टूर्नामेंट का आयोजन हो पाए। उन्होंने पोडकास्ट हॉटस्पॉट में कहा कि सच कहूं तो मैं इस टूर्नामेंट के आयोजन को लेकर थोड़ा डरा हुआ हूं। एक टीम को लेकर आना फिर पृथकवास में रखना और फिर एक सेफ कंडीशन में तैयारी कराना तो ठीक है और ऐसा हो भी सकता है, लेकिन कई टीमों को लाना, फिर सबको पृथकवास में रखना और मैच के मुताबिक देश के अलग-अलग हिस्सों में ले जाना, ये सब आसान नहीं होगा।

माइकल हसी ने कहा कि जो सुनने को मिल रहा है उसके मुताबिक शायद टी20 वर्ल्ड कप 2020 को 2021 या फिर 2022 तक के लिए स्थगित किया जाना चाहिए। टीम इंडिया को भी टी20 वर्ल्ड कप के बाद ऑस्ट्रेलिया दौरे पर आना है और हसी का मानना है कि ये क्रिकेट सीरीज तो वक्त पर हो सकता है। भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे के बारे में उन्होंने कहा कि ये दौरा हो सकता है क्योंकि यहां सिर्फ एक ही टीम आएगी और उनके लिए सभी जरूरी उपाय करना आसान होगा। 

हसी ने एक उदाहरण देते हुए कहा कि एडीलेड ओवल ने हाल ही में एक होटल का निर्माण किया है जो स्टेडियम के बेहद पास है। टीम इंडिया वहां रह सकती है, ट्रेनिंग कर सकती है और सीरीज की तैयारी भी कर सकती है साथ ही कंगारू टीम के खिलाफ खेल भी सकती है। भारत को इस साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर चार मैचों की टेस्ट सीरीज में हिस्सा लेना है। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस