मुंबई, पीटीआइ। तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन (टीएनसीए) के इंग्लैंड की अंडर-19 टीम की मेजबानी से हाथ खड़े करने के बाद पूर्व भारतीय कप्तान दिलीप वेंगसरकर ने मुंबई को मेजबानी देने की बात कही है। उन्होंने कहा है कि मुंबई का किसी भी दूसरे भारतीय शहर से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय महत्व है। इसलिए इन मैचों की मेजबानी मुंबई को देने में कोई बुराई नहीं है।

जानकारी के मुताबिक टीएनसीए ने वरदा तूफान के बाद स्टेडियम में हुए नुकसान और अपने घरेलू कार्यक्रम की वजह से चेपक के एमए चिदंबरम स्टेडियम में इंग्लैंड की जूनियर टीम के 15 दिनों के दौरे के मैच आयोजित करने में असमर्थता जाहिर कर दी है। ऐसे में पूर्व में टीम इंडिया के मुख्य चयनकर्ता रह चुके दिलीप ने कहा है मुंबई को यह मौका मिलना चाहिए।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

यही नहीं, भारत के लिए 16 टेस्ट मैच खेलने वाले दिलीप ने कहा है कि अगर हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन को बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट मैच के आयोजन में आपत्ति है तो भी मुंबई को इस मैच की मेजबानी दी जानी चाहिए। हालांकि, अब एचसीए के सचिव मनोज ने कहा है कि उन्होंने कभी भी बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट मैच को नहीं कराने की बात नहीं कही थी।

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

दिलीप ने आगे कहा, 'मुझे लगता है कि क्रिकेट को बाकी किसी भी चीज से प्राथमिकता मिलनी चाहिए। इन मैचों का आयोजन काफी पहले से ही तय है और आयोजकों के हाथ खड़े करने से भी कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए।'

Posted By: Bharat Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस