नई दिल्ली, जेएनएन। MS Dhoni के लिए टीम इंडिया में वापसी अब आसान नहीं होगा और इस वक्त ऐसा कई लोगों का मानना है, लेकिन माही के पूर्व साथी खिलाड़ी मोहम्मद कैफ को विश्वास है कि भारतीय थिंक टैंग के पास अब भी इस पूर्व कप्तान का कोई विकल्प नहीं है। कैफ ने कहा कि उन्होंने पहली बार झारखंड के इस बल्लेबाज को बल्लेबाजी करता देखा था तो उन्हें लगा था कि इनमें एक्स फैक्टर है। 

कैफ ने कहा कि मैं जब देवधर ट्रॉफी में सेंट्रल जोन का कप्तान था तब पहली बार उन्हें बल्लेबाजी करते देखा था। उस वक्त वो ईस्ट जोन के लिए खेल रहे थे और ये बात उनके इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू करने से दो साल पहले की है। हमारी टीम ने उस मैच में लगभग 360 रन बनाए थे और धौनी अपनी टीम की तरफ से तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए थे। उन्होंने आते ही 40-50 गेंदों में ही 80-85 रन बना डाले। उसी वक्त मुझे महसूस हुआ था कि उनमें एक्स फैक्टर है। उनका बल्लेबाजी स्टाइल यूनिक है और क्रिकेट की गजब की समझ है। 

कैफ ने बताया कि इससे पहले मैंने अपने एक साथी से धौनी के बारे में सुना था। उसने टीवी पर धौनी को इंडिया ए के लिए खेलते देखा था, वो चश्मा लगाकर विकेटकीपिंग कर रहे थे, उनके बाल लंबे थे और एक्स फैक्टर तो उनमें था ही। इसके तुरंत बाद उन्हें धौनी के साथ खेलने का मौका भी मिला। साल 2004 में जब बांग्लादेश के खिलाफ धौनी का वनडे डेब्यू हुआ था तब उस मैच में वो रन आउट हो गए थे और उस वक्त दूसरे एंड पर मोहम्मद कैफ ही बल्लेबाजी कर रहे थे। 

वहीं जब धौनी ने 5 अप्रैल 2005 में विशाखापत्तनम में पाकिस्तान के खिलाफ 148 रन की पारी खेली थी तब भी कैफ उस टीम का हिस्सा था। धौनी की वापसी पर उन्होंने कहा कि लोगों को लगता है कि उन्होंने काफी अरसे से इंटरनेशनल मैच नहीं खेला है और वो आइपीएल में अच्छा प्रदर्शन करके कमबैक कर सकते हैं, लेकिन मुझे ऐसा लगता है कि वो बहुत बड़े खिलाड़ी हैं। वो बड़े मैच विनर हैं और उन्हें पता है कि नंबर 6 और 7 पर दवाब में किस तरह से बल्लेबाजी करनी है। 

कैफ ने कहा कि एमएस धौनी पूरी तरह से फिट हैं और मेरे मुताबिक वो नंबर एक खिलाड़ी हैं। ये बात कोई मायने नहीं रखता कि कितने खिलाड़ी आए, पर आप एम एस धौनी को रिप्लेस नहीं कर सकते। मुझे लगता है कि जब आप किसी को हटाते हो तो आपका दूसरा खिलाड़ी तैयार होना चाहिए। कैफ ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि केएल राहुल लंबे वक्त के लिए विकेटकीपर के तौर पर टीम इंडिया का विकल्प हैं। केएल राहुल की जगह किसी अन्य को विकेटकीपर के तौर पर ग्रूम किया जाना चाहिए। रिषभ पंत और संजू सैमसन भी धौनी की जगह लेने के काबिल नहीं हैं। 

टीम इंडिया को सचिन और द्रविड़ की जगह विराट व रोहित जैसे बल्लेबाज मिल गए जिसकी वजह से गैप कम हो गया, लेकिन धौनी के मामले में ऐसा नहीं है। वो नंबर एक विकेटकीपर हैं और वो पूरी तरह से फिट हैं ऐसे में उन्हें जल्दबाजी में साइड लाइन नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया डॉट कॉम से बातें करते हुए ये सब कहा। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस