रोसू। अपने करियर का आखिरी टेस्ट मैच जीतने वाले पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान मिस्बाह उल-हक के नेतृत्व में पाकिस्तान ने वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई तीन टेस्ट मैचों की सीरीज को 2-1 से अपने नाम कर ऐतिहासिक जीत हासिल की है।

इस जीत से खुश मिस्बाह ने कहा कि उनके लिए टेस्ट करियर का समापन शानदार तरीके से हुआ है और वह इससे बेहतर विदाई की उम्मीद नहीं कर सकते थे। रोसू के विंडसर पार्क में खेले गए तीसरे और निर्णायक टेस्ट मैच में पाकिस्तान ने वेस्टइंडीज को 101 रनों से हराया।

आइपीएल की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

मिस्बाह ने कहा, ‘मैंने अपने जीवन में जो भी सफलता हासिल की है और जो भी चीजें करियर के दौरान मुझे मिली, उन सब के लिए मैं अल्लाह को शुक्रिया कहना चाहता हूं। टेस्ट क्रिकेट करियर का ऐसे शानदार समापन से अधिक की उम्मीद नहीं कर सकता था। मैं अपने परिवार, मेरी मां, मेरी बहन और खासकर मेरी पत्नी उजमा से मिले समर्थन के लिए शुक्रगुजार हूं। इस श्रृंखला को मैंने खास तौर पर अपनी पत्नी के लिए खेला है। मैं अपने टेस्ट करियर का समापन आस्ट्रेलिया में कर सकता था’।

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

कप्तान मिस्बाह ने कहा कि उनकी पत्नी के साथ-साथ प्रशंसकों और टीम के साथी खिलाड़ियों ने भी उन्हें यहीं सलाह दी कि उन्हें अपने करियर का समापन शानदार प्रदर्शन और जीत के साथ करना चाहिए। वेस्टइंडीज में पाकिस्तान की यह पहली श्रृंखला जीत है। मिस्बाह ने कहा कि इस श्रृंखला को जीतने और उन्हें तथा यूनिस को शानदार विदाई देने के लिए टीम के खिलाड़ियों ने बहुत मेहनत की। उल्लेखनीय है कि यूनिस का भी यह उनके टेस्ट करियर का अंतिम मैच था, जिसे जीतकर वह बेहद खुश हैं।

Posted By: Pradeep Sehgal