नई दिल्ली, जेएनएन। श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने गुरुवार को एक बड़ा ऐलान करते हुए टीम की पूरी कोचिंग टीम में बदालव कर दिया। चंडिका हथुरुसिंघा (Chandika Hathurusingha) की जगह टीम मिकी आर्थर को टीम का नया मुख्य कोच बनाया गया है। आर्थर को हाल ही में पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के पद से हटाया गया था। मुख्य कोच के अलावा टीम के कोचिंग स्टाफ में भी बदलाव किया गया है।

पिछले काफी सालों से खराब दौर से गुजर रही श्रीलंका क्रिकेट टीम को उबारने की जिम्मेदारी पाकिस्तान और साउथ अफ्रीका को मुख्य कोच रह चुके मिकी आर्थर को दी गई है। गुरुवार को श्रीलंका क्रिकेट ने आधिकारिक रूप से आर्थर को इस पद पर बहाल किए जाने की घोषणा की। श्रीलंका क्रिकेट टीम के साथ आर्थर का करार अगले दो साल के लिए होगा।

श्रीलंका की कोचिंग टीम में हुआ बदलाव

आर्थर को टीम का मुख्य कोच बनाए जाने के साथ ही जिम्बाब्वे के पूर्व क्रिकेटर ग्रांट फ्लावर को भी टीम के साथ जोड़ा गया है। ग्रांट बतौर बल्लेबाजी कोच टीम के साथ काम करेंगे। डेविड साकेर को गेंदबाजी कोच बनाया गया है जबकि शेन मैक डोरमेट बतौर फील्डिंग कोच की जिम्मेदारी दी गई है।

फ्लावर और मिकी पहले भी कर चुके हैं साथ काम 

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के साथ बतौर मुख्य कोच काम करने वाले मिकी आर्थर के साथ ग्रांट फ्लावर पहले भी काम कर चुके हैं। फ्लावर पाकिस्तान की टीम को बल्लेबाजी प्रशिक्षण दे चुके हैं। मिकी की कोचिंग टीम में वह बतौर बल्लेबाजी कोच काम कर रहे थे। 

चंडिका हथुरुसिंघा पर फैसला 

बांग्लादेश क्रिकेट टीम के साथ बतौर मुख्य कोच काम कर रहे चंडिका हथुरुसिंघा नवंबर में 2017 में अपने पद से इस्तीफा दिया था। इसके बाद दिसंबर में उन्होंने श्रीलंका के मुख्य कोच के पद को संभाला था। चंडिका के बारे में श्रीलंका क्रिकेट की तरफ से कोई बयान नहीं दिया गया है। वहीं अब तक उनका करार भी टीम के साथ खत्म नहीं हुआ है। 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस