नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। श्रीलंका के दिग्गज तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। साल 2014 में टी20 विश्व कप में टीम की कप्तानी करने वाले मलिंगा ने क्रिकेट के सभी फार्मेट को अलविदा करने का फैसला लिया है। उन्होंने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक संदेश जारी कर अपने सभी चाहने वालों तक यह बात पहुंचाई।

दुनिया के सबसे खतरनाक तेज गेंदबाजों की लिस्ट में शामिल मलिंगा ने क्रिकेट के तीनों ही फार्मेट में अपना नाम कमाया। सटीक यार्कर से दुनिया के बड़े बड़े बल्लेबाजों के विकेट उखाड़ने वाले मलिंगा ने टेस्ट और वनडे क्रिकेट से पहले ही संन्यास ले लिया था। जुलाई 2004 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट से इंटरनेशनल करियर का आगाज करने वाले मलिंगा ने आखिरी मैच 6 मार्च 2020 को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था।   

श्रीलंका को बनाया टी20 चैंपियन

लसिथ मलिंगा की कप्तानी में ही श्रीलंका क्रिकेट टीम ने 2014 में टी20 विश्व कप का खिताब जीता था। भारतीय टीम को फाइनल में 6 विकेट से हराकर श्रीलंका की टीम ने यह ट्राफी जीती थी। मलिंगा ने 226 वनडे मैच खेलकर 338 विकेट हासिल किए जबकि 84 टी20 मुकाबलों में उनके नाम 107 विकेट हैं। 30 टेस्ट मैच खेलने वाले मलिंगा ने इस फार्मेट में 101 विकेट चटकाए।

मलिंगा के नाम रिकार्ड

टी20 के बादशाह माने जाने वाले मलिंगा ने इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा 107 विकेट चटकाए हैं। 84 टी20 इंटरनेशनल मैच खेलकर उन्होंने 2 बार पांच विकेट लेने का कमाल करने के साथ यह विकेट हासिल किए हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ टी20 प्रदर्शन 6 रन देकर 5 विकेट का है जो न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्होंने 2019 में पल्लिकल में किया था। 

आइपीएल में भी सबसे ज्यादा विकेट चटकाने में मलिंगा टाप पर हैं। उन्होंने 122 मुकाबले खेलकर कुल 179 विकेट हासिल किए हैं। उनका सबसे बेहतरीन प्रदर्शन 13 रन देकर 5 विकेट हासिल करने का रहा है। आइपीएल में कुल 6 बार उन्होंने एक मैच में 4 या उससे ज्यादा विकेट चटकाए हैं।

 

Edited By: Viplove Kumar