नई दिल्ली, जेएनएन। केएल राहुल ने पहली बार किसी इंटरनेशनल टी 20 सीरीज में भारत के लिए विकेटकीपिंग की और उन्होंने अपने पहले ही सीरीज में इतिहास रच दिया। न्यूजीलैंड के खिलाफ जब विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट ने उनपर भरोसा जताते हुए जब विकेटकीपिंग ग्लब्ज सौंपी थी तब शायद ही किसी ने सोचा होगा कि राहुल वो काम कर जाएंगे जो भारत के किसी भी विकेटकीपर ने अब तक नहीं किया था। पर राहुल ने वो कर दिखाया और न्यूजीलैंड की धरती पर कमाल का प्रदर्शन करते हुए प्लेयर ऑफ द सीरीज का खिताब जीता। 

धौनी भी नहीं कर पाए जो कर दिखाया केएल राहुल ने

MS Dhoni भारत के बेहतरीन विकेटकीपरों में से एक हैं, लेकिन उन्होंने भी कभी विकेटकीपर के तौर पर टी 20 सीरीज में प्लेयर ऑफ द सीरीज का खिताब जीतने का गौरव हासिल नहीं किया, लेकिन केएल राहुल ने अपने पहले ही अंतरराष्ट्रीय टी 20 सीरीज में अपने शानदार खेल के दम पर प्लेयर ऑफ द सीरीज का खिताब जीतने का गौरव हासिल किया। राहुल भारत के पहले ऐसे विकेटकीपर बने जिन्होंने टी 20 सीरीज में ये खिताब अपने नाम किया। इसके अलावा वो भारत के पहले ऐसे खिलाड़ी भी बने जिन्होंने क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप में न्यूजीलैंड की धरती पर पहली बार प्लेयर ऑफ द सीरीज का खिताब जीता। 

विकेट के आगे और पीछे भी शानदार रहे केएल राहुल

इस पूरे सीरीज के दौरान केएल राहुल की बल्लेबाजी की जितनी तारीफ की जाए वो कम ही है। पांच मैचों में उन्होंने 56 रन की शानदार औसत से कुल 224 रन बनाए और दो अर्धशतक भी लगाए। उनकी सर्वश्रेष्ठ पारी नाबाद 57 रन की रही। इसके अलावा उन्होंने विकेटकीपिंग में भी प्रभावित किया। उन्होंने इस सीरीज के दौरान कुल चार विकेट लिए जिसमें तीन कैच व एक स्टंप भी शामिल था। राहुल ने इस पूरे सीरीज के दौरान अपनी इस दोहरी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया और टीम की जीत में बड़ी भूमिका निभाई। 

Aus-vs-Ind

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस