नई दिल्ली, पीटीआइ। भारतीय क्रिकेट पर एक बार फिर से फिक्सिंग का साया मंडराया है। इस बार कर्नाटक प्रीमियर लीग (Karnataka Premier League) में स्पॉट फिक्सिंग किए जाने की खबर है। इस मामले में बुधवार को एक खिलाड़ी का नाम सामने आने के बाद अब एक दिन बाद दो और क्रिकेटर की गिरफ्तार हुई है। इस लीग में स्पॉट फिक्सिंग मामले में गुरुवार को दो बड़े नाम सामने आए हैं। पुलिस ने इंडियन प्रीमियर लीग में विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी वाली फ्रेंचाइजी टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम का हिस्सा रह चुके दो खिलाड़ियों को गिरफ्तार किया है।

फिक्सिंग जैसे गंभीर मामले में पुलिस ने शख्ती दिखाते हुए कर्नाटक प्रीमियर लीग (KPL) में मैच फिक्सिंग के आरोप में कुछ और गिरफ्तारी की है। आईपीएल में विराट कोहली की टीम से सदस्य रह चुके 33 साल के सी गौतम (Cm Gautam) और अबरार काजी को पुलिस ने फिक्सिंग के आरोप में गिरफ्तार किया है।

अपर आयुक्त (Additional Commissioner) संदीप पाटिल ने पीटीआइ से बताया, “हमने केपीएल फिक्सिंग के तरह दो खिलाड़ियों को गिरफ्तार किया है।“

इसमें से गौतम तो आईपीएल की सबसे सफल टीम मुंबई इंडियंस की टीम का भी हिस्सा रह चुके हैं। पुलिस ने इन दोनों ही खिलाड़ियों को केपीएल के हालिया सीजन के दौरान धीमी बल्लेबाजी के लिए तकरीबन 20 लाख रुपये लेने का आरोप में गिरफ्तार किया है। फाइनल मैच के दौरान स्पॉट फिक्सिंग करने का दोनों ही क्रिकेटर्स पर आरोप लगा है।

केपीएल 2019 का फाइनल मुकाबला हुबली और बेल्लारी की टीमों के बीच हुआ था। आपको बता दें कि मंगलवार को पुलिस ने मैच फिक्सिंग के मामले में बेंगलुरु ब्लास्टर्स (Bengaluru Blasters) के बल्लेबाज निशांत सिंह शेखावत (Nishant Singh Shekhawat) को गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले 25 अक्टूबर को पुलिस ने एम विश्वनाथन को गिरफ्तार कर लिया था।

गौतम और काजी दोनों ही खिलाड़ियों के नाम शुक्रवार से शुरू हो रहे सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी टी20 टूर्नामेंट की टीम में है। गौतम गोवा जबकि काजी मिजोरम की टीम से खेलते हैं।

 

Posted By: Viplove Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप