दुबई। आईसीसी के मुख्य कार्यकारी हारून लोर्गट ने स्वीकार किया कि 2011 वर्ष का एक निराशाजनक पहलू यह रहा कि अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए डीआरएस के इस्तेमाल पर सर्वसम्मति नहीं बन सकी जबकि ज्यादातर खिलाड़ी इस तकनीक के पक्ष में हैं। लोर्गट के अनुसार क्रिकेट का सबसे निराशाजनक पल पाक के तीन क्रिकेटरों का जेल जाना रहा।

आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज माइक हसी और एड कोवान को भारत के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज के शुरुआती मैच में मैदानी अंपायर द्वारा आउट दिए जाने के बाद अंपायरों की समीक्षा प्रणाली [डीआरएस] पर बहस तेज हो गई है क्योंकि टीवी रिप्ले में साफ दिख रहा था कि ये खिलाड़ी आउट नहीं थे। यहां तक की टीवी रिप्ले में दिख रहा था कि जहीर खान की गेंद पर रिकी पोंटिंग पगबाधा आउट हो गए थे। लोर्गट ने आईसीसी मीडिया विज्ञप्ति में कहा, हम डीआरएस पर एकमत हासिल नहीं कर पाए, जबकि ज्यादातर खिलाड़ी इसके पक्ष में हैं। लोर्गट के अनुसार साल का निराशाजनक पल सलमान बट, मोहम्मद आमिर और मोहम्मद आसिफ की पाकिस्तानी तिकड़ी का स्पाट फिक्सिंग में दोषी पाया जाना था। उन्होंने कहा, साल की सबसे बड़ी निराशा तीन पाकिस्तानी खिलाडि़यों को स्पाट फिक्सिंग में दोषी पाया जाना था। लोर्गट ने भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश की संयुक्त मेजबानी में आयोजित कराए गए विश्व कप की भी प्रशंसा की।

मुख्य कार्यकारी ने कहा, मुझे लगता है कि 2011 इसलिए भी याद रहेगा क्योंकि यह विश्व कप वर्ष था जिसमें बांग्लादेश, भारत और श्रीलंका ने संयुक्त मेजबानी की और मेजबान देश भारत ने 28 साल बाद इस पर कब्जा किया। मैं अब भी मुंबई के उस जादुई माहौल को याद कर सकता हूं जो भारत के विश्व कप जीतने के बाद बन गया था। लोर्गट के अनुसार टेस्ट क्रिकेट के लिए भी यह वर्ष काफी शानदार रहा। विज्ञप्ति के अनुसार, टेस्ट क्रिकेट के लिए यह वर्ष बेहतरीन रहा है। इसके आकर्षण के बारे में काफी अटकलें चलती रही हैं लेकिन हमने कुछ शानदार टेस्ट मैच देखे और मुझे लगता है कि इसने [टेस्ट क्रिकेट] खिलाडि़यों और प्रशंसकों के दिल में जगह पक्की कर ली है जो इसका लुत्फ उठाना जारी रखेंगे। उनके लिए वर्ष की एक निराशा यह भी रही कि वे 2013 में विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का आयोजन नहीं करा पाए। उन्होंने कहा, हमने टेस्ट चैंपियनशिप के बारे में बात की थी लेकिन मेरी निराशा यह रही कि हम इसके आयोजन के लिए 2013 पर सहमति नहीं बना सके और शुरूआती वर्ष स्थगित होकर 2017 हो गया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर