नई दिल्ली। महात्मा गांधी-नेल्सन मंडेला सीरीज खेलने भारत आ रही दक्षिण अफ्रीकी टीम अपना पहला अभ्यास मैच दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम की जगह सर्विसेज के पालम स्टेडियम में खेलेगी। हालांकि बीसीसीआइ ने अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है।

पहले यह एकमात्र टी-20 अभ्यास मैच 29 सितंबर को कोटला मैदान में ही होना था, लेकिन डीडीसीए के अधिकारियों ने इस बहुप्रतीक्षित सीरीज के शुरुआती अभ्यास मैच के आयोजन पर ही असमर्थता जता दी। डीडीसीए उपाध्यक्ष चेतन चौहान ने बीसीसीआइ को पत्र लिखकर कहा था कि दमकल विभाग और एमसीडी की अनुमति नहीं मिल पाने के कारण इस मैच का आयोजन करना संभव नहीं हो पाएगा। बीसीसीआइ के एक उच्च अधिकारी ने कहा कि इस मैच का आयोजन दिल्ली में ही होगा, लेकिन अब डीडीसीए की जगह इसे सर्विसेज के पालम मैदान में कराया जाएगा। जल्द ही इसकी आधिकारिक घोषणा की जाएगी। बीसीसीआइ के कुछ अधिकारी इसे मोहाली में भी आयोजित करना चाहते हैं, क्योंकि इसके बाद दो अक्टूबर को टूर्नामेंट का पहला टी-20 मैच धर्मशाला में होना है।

डीडीसीए के मुंह पर तमाचा : शर्मा

डीडीसीए के संयुक्त सचिव दिनेश शर्मा ने इसे अपने संघ के मुंह पर करारा तमाचा बताते हुए कहा कि इससे दिल्ली संघ की साख पर बट्टा लग गया। उन्होंने कहा कि क्रिकेट संघ का काम मैच आयोजित कराना है न कि मैच के आयोजन से इन्कार करना। सबसे बड़ी बात यह है कि मैच का आयोजन दिल्ली में ही दूसरे स्टेडियम में हो रहा है। इतनी बड़ी एसोसिएशन शहर के सबसे बेहतरीन टेस्ट सेंटर पर एक अभ्यास मैच नहीं आयोजित करवा पा रहा है, जबकि सर्विसेज के रणजी सेंटर में यह मैच आयोजित करवाया जा रहा है। दक्षिण अफ्रीकी टीम 72 दिन के दौरे पर भारत आ रही है। मेहमान टीम इस दौरे पर एक टी-20 अभ्यास मैच, तीन टी-20 मैच, पांच वनडे, एक दो दिवसीय अभ्यास मैच और चार टेस्ट मैच खेलेगी।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: sanjay savern