नई दिल्ली, जेएनएन। इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो टेस्ट में हार के बाद भी लगता है भारतीय क्रिकेट टीम को अपने प्रदर्शन के बारे में जानकारी नहीं है। पूरे क्रिकेट वर्ल्ड में टीम इंडिया की आलोचना हो रही है। देसी या विदेशी क्रिकेट दिग्गज भी कोहली की कप्तानी वाली टीम के प्रदर्शन से परेशान है लेकिन ऐसा लगता है कि खिलाड़ियों को इसकी परवाह बिल्कुल नहीं है, तभी तो लॉर्ड्स टेस्ट खत्म होने के 2 दिन बाद भी उन्होंने प्रैक्टिस करने की जहमत नहीं उठाई।

इंग्लैंड से खबर है कि भारतीय टीम ने दूसरे टेस्ट में हार के बाद एक बार भी नेट्स पर प्रैक्टिस नहीं की है। यहां तक की किसी भी खिलाड़ी ने बल्ला या गेंद तक नहीं उठाई है। अब सवाल यही है कि जब भारतीय टीम का प्रदर्शन कितना खराब रहा है फिर भी वह क्यों प्रैक्टिस नहीं कर रही है। भारतीय टीम को बुधवार को नॉटिंघम रवाना होगी, जहां पर तीसरा टेस्ट मैच खेला जाएगा।

अब तीसरा टेस्ट मैच शुरु होने में बहुत कम समय बचा है और भारत के पास प्रैक्टिस के लिए केवल 2 दिन का समय बचा है। वहीं टीम इंडिया की तरफ से आ रही खबर की मानें तो इस वक्त खिलाड़ी जिस मनोदशा में है, उसमें उन्हें प्रैक्टिस से ज्यादा खुद को मानसिक तौर पर मजबूत करना जरूरी है। भारतीय बल्लेबाज कोच रवि शास्त्री के साथ मिलकर अपनी कमजोरियों पर चर्चा कर रहे हैं।

टीम इंडिया के प्रैक्टिस नहीं करने पर भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर भी नाराज है। गावस्कर ने कहा कि टीम को लंदन में रुकने की जगह नॉटिंघम रवाना होकर वहां अभ्यास करना चाहिए था। गावस्कर ने कहा कि मैं देख रहा हूं दौरे की शुरुआत से ही भारतीय टीम लंदन में रुकना चाह रही है जबकि नॉटिंघम में लंदन से ज्यादा सुविधा उपलब्ध है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Lakshya Sharma