नई दिल्ली, जेएनएन। India vs Bangladesh first test match: सात मैच और इन सभी सात मैचों में टीम इंडिया के जीत का रिकॉर्ड शत-प्रतिशत। यह रिकॉर्ड है टीम इंडिया का इंदौर के होलकर स्टेडियम में खेले गए अभी तक के सभी प्रारूपों के मैचों का। भारतीय टीम को यहां एक भी हार नहीं मिली है और जब बांग्लादेश के खिलाफ भारतीय टीम गुरुवार को दो मैचों की सीरीज का पहला क्रिकेट टेस्ट खेलने के लिए मैदान में उतरेगी तो वह यहां निश्चित तौर पर अपना यह रिकॉर्ड बरकरार रखना चाहेगी। वहीं टेस्ट सीरीज के लिए विराट कोहली की टीम में वापसी हो चुकी है। 

तमीम और शाबिक के बिना उतरेगी बांग्लादेश

बांग्लादेश की टीम पहले ही नियमित कप्तान शाकिब अल हसन और अनुभवी तमीम इकबाल के बिना खेल रही है। ऐसे में एकमात्र अनुभवी बल्लेबाज के तौर पर विकेटकीपर बल्लेबाज मुश्फिकुर रहीम ही हैं और उन्हीं पर सभी की उम्मीदें रहेंगी। बांग्लादेश को पिछली टेस्ट सीरीज के तहत एकमात्र टेस्ट में नवोदित अफगानिस्तान से हार का सामना करना पड़ा था। भारतीय कप्तान विराट कोहली और उप कप्तान अजिंक्य रहाणे पहले ही साफ कर चुके हैं कि टेस्ट चैंपियनशिप को ध्यान में रखते हुए वह किसी भी तरह की कोताही नहीं बरतेंगे और बांग्लादेश को कमजोर नहीं आंक रहे हैं।

भारतीय बल्लेबाजी मजबूत

भारतीय टीम बल्लेबाजी के साथ ही गेंदबाजी में भी बांग्लादेश से कहीं आगे दिखाई देती है। बल्लेबाजी क्रम में भारत के पास रोहित शर्मा, कप्तान विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा जैसे बल्लेबाज हैं, जो टीम को विशाल स्कोर तक पहुंचा सकते हैं। रोहित का सलामी बल्लेबाज के तौर पर वापसी का 2.0 वर्जन जबरदस्त रहा है और वह लगातार बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज में उन्होंने तीन शतक जड़े थे, जिसमें रांची में लगाया एक दोहरा शतक भी शामिल था। वह अपने इस फॉर्म को यहां भी जारी रखना चाहेंगे। वहीं, कप्तान कोहली को हाल ही में टी-20 सीरीज में आराम दिया गया था।

हालांकि, नेट्स के दौरान वह पूरी तरह लय में नजर आए और गेंद को बल्ले के बीच से खेलने का प्रयास कर थे। कोहली ने भी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एक दोहरा शतक जड़ा था, जो उनका सातवां दोहरा शतक था। होलकर स्टेडियम में खेले गए एकमात्र टेस्ट में वह दोहरा शतक जड़ चुके हैं। चेतेश्वर पुजारा और रहाणे के लिए भी होलकर स्टेडियम यादगार रहा है, जहां उनके नाम शतक दर्ज है। इनके अलावा युवा मयंक अग्रवाल और हनुमा विहारी ने भी अभी तक अपने संक्षिप्त करियर में प्रतिभा की झलक दिखाई है।

टीम इंडिया का गेंदबाजी आक्रमण मजबूत

टीम इंडिया के पास इस समय संभवत: सबसे उम्दा गेंदबाजी आक्रमण है और वह घर के साथ ही विदेशी जमीन पर भी अपना लोहा मनवा चुकी है। मुहम्मद शमी, इशांत शर्मा, उमेश यादव टीम में हैं। इस तिकड़ी के अलावा रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा और कुलदीप यादव की स्पिन तिकड़ी ने भी अपनी धाक जमाई है। लेकिन, पिच को देखते हुए शमी और उमेश का अंतिम एकादश में खेलना तय लग रहा है, जबकि अश्विन व जडेजा का खेलना तय है। पत्रकार वार्ता में हालांकि कप्तान कोहली ने संकेत दिए कि इशांत खेल सकते हैं।

टीमें :

भारत : विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, मयंक अग्रवाल, रोहित शर्मा, शुभमन गिल, रवींद्र जडेजा, रिद्धिमान साहा, रिषभ पंत, इशांत शर्मा, कुलदीप यादव, मुहम्मद शमी, रविचंद्रन अश्विन, उमेश यादव।

बांग्लादेश : मोमिनुल हक (कप्तान), इमरूल काएस, मुसद्दक हुसैन, सैफ हुसैन, शादमान इस्लाम, महमूदुल्लाह, मेहदी हसन मिराज, लिटन दास, मुहम्मद मिथुन, मुश्फिकुर रहीम, अबू जाएद, अल-अमीन हुसैन, इबादत हुसैन, मुस्तफिजुर रहमान, नईम हसन, तैजुल इस्लाम।

नंबर गेम :

-09 टेस्ट मैच खेले गए हैं अब तक भारत और बांग्लादेश के बीच। इनमें से भारत ने सात टेस्ट जीते हैं, जबकि दो टेस्ट ड्रॉ रहे। बांग्लादेश को भारत के खिलाफ अपनी पहली टेस्ट जीत का इंतजार है।

--01 टेस्ट मैच खेला गया है भारत व बांग्लादेश के बीच भारतीय सरजमीं पर। फरवरी 2017 में हैदराबाद में खेले गए इस टेस्ट को भारत ने 208 रन से जीता था।

--01 टेस्ट मैच की मेजबानी की है अब तक होल्कर स्टेडियम ने। अक्टूबर 2016 में यहां खेले गए पहले टेस्ट में भारत ने न्यूजीलैंड को 321 रन से हराया था। भारत-बांग्लादेश के बीच मैच इस स्टेडियम का दूसरा टेस्ट होगा।

- 07 मैच कुल मिलाकर होलकर स्टेडियम में अभी तक खेले गए हैं सभी प्रारूपों में। इन सातों मैचों में भारत जीता है। एकमात्र टेस्ट के अलावा यहां पांच वनडे और एक टी-20 मैच में भारत को जीत मिली है।

--25 रन दूर हैं अजिंक्य रहाणे टेस्ट क्रिकेट में 4000 रन पूरे करने से। अब तक कुल 15 भारतीय क्रिकेटर टेस्ट क्रिकेट में 4000 रन का आंकड़ा छू चुके हैं।

--100 शिकार पूरे करने से तीन शिकार दूर हैं विकेटकीपर रिद्धिमान साहा। उनके नाम अब तक 97 शिकार (86 कैच, 11 स्टंप) हैं। भारतीय विकेटकीपरों में सिर्फ महेंद्र सिंह धौनी (294), सैयद किरमानी (198), किरन मोरे (130) और नयन मोंगिया (107) ने ही टेस्ट क्रिकेट में 100 या ज्यादा शिकार किए हैं।

 

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप