अभिषेक त्रिपाठी, मैनचेस्टर। नॉटिंघम में बारिश के कारण भारत-न्यूजीलैंड मैच रद होने के बाद जब मैं शुक्रवार की सुबह ट्रेन से मैनचेस्टर की तरफ बढ़ा तो पूरे रास्ते बारिश की बूंदें डराती रहीं कि रविवार को इनका कहर विश्व कप के अब तक के सबसे बड़े मुकाबले पर ना पड़ जाए। मैनचेस्टर पिकेडली रेलवे स्टेशन से ट्राम लेकर ओल्ड ट्रैफर्ड उतरा तो सामने ही विश्व कप की बड़ी सी बारिश से भीगी होर्डिंग दिखी, जिसमें लिखा था ‘द वल्ड्र्स ग्रेटेस्ट क्रिकेट सेलिब्रेशन।’ उसे देखकर मन में यही ख्याल आया कि अगर क्रिकेट के सबसे बड़े मेले में भारत-पाक का मुकाबला बारिश से धुल गया तो ब्लैक में 1200 पाउंड (करीब एक लाख रुपये) तक की टिकट लेने वालों का क्या होगा, आइसीसी दुनिया को क्या मुंह दिखाएगी?

धूप से खिले चेहरे
दोपहर होते-होते ओल्ड ट्रैफर्ड क्रिकेट स्टेडियम में धूप खिल आई और इसी के साथ आइसीसी के सीईओ डेव रिचर्डसन का चेहरा भी खिल गया। उन्होंने कहा, चार दिन बाद धूप खिली है, जो मददगार होगी। इसके बाद मैदानकर्मी मैदान को मैच के लिए तैयार करने में जुट गए। सेंट्रल पिच से कवर हटाया गया तो पता चला कि इस पर रत्ती भर भी घास नहीं है। कुल मिलाकर आइसीसी चाहती है कि दुनिया के दो सबसे बड़े प्रतिस्पर्धियों के बीच धमाकेदार मुकाबला हो। हालांकि मौसम विभाग की मानें तो रविवार को बारिश की संभावना 50 फीसद तक है। हालांकि शाम होते ही मैनचेस्टर में दोबारा से बारिश होना शुरू हो गई।

एशिया कप के बाद अब होगी मुलाकात
2008 में मुंबई में हुए आतंकवादी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान से द्विपक्षीय सीरीज खेलने से इन्कार कर दिया। उसके बाद से ये दोनों टीमें सिर्फ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आइसीसी) और एशिया क्रिकेट परिषद (एसीसी) के टूर्नामेंट में ही भिड़ती हैं। इन दोनों के बीच आखिरी मुकाबला पिछले साल सितंबरअक्टूबर में दुबई में एशिया कप में हुआ था। तब भारत ने दोनों मुकाबलों में पाकिस्तान को मात दी थी। हालांकि इससे पहले 2017 में इंग्लैंड में चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान ने भारत को पराजित किया था।

दर्शकों को है पूरी उम्मीद
कभी कानपुर व कोलकाता की तुलना जिस मैनचेस्टर से की जाती थी, वहीं पर यह मुकाबला होना है। मैनचेस्टर सिटी और मैनचेस्टर युनाइटेड जैसे दो बड़े फुटबॉल क्लबों का घर अब क्रिकेट युद्ध का अखाड़ा बनने वाला है। करीब 26 लाख की आबादी वाले इस शहर में 15 फीसद भारतीय, पाकिस्तानी, बांग्लादेशी व अफगानी हैं। यहां पर टैक्सी चलाने वाले रमेश कुमार ने कहा, मैच की एक-एक टिकट बिक चुकी हैं। कुछ वेबसाइट में टिकटें रीसेल हो रही हैं। लोग 200 पाउंड तक में इन्हें खरीद रहे हैं। वहीं, एक पाकिस्तानी प्रशंसक रफीक आजमी ने कहा, इसमें शक नहीं कि हमारी टीम कमजोर है, लेकिन हमने विराट की टीम को चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में हराया है। जब ये दोनों टीमें मैदान में उतरेंगी तो सांसों का रुकना लाजिमी हो जाएगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sanjay Pokhriyal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप