नई दिल्ली, एएनआइ। न्यूजीलैंड के खिलाफ मुंबई में दूसरा और आखिरी टेस्ट मैच खेलने के बाद भारतीय टीम को साउथ अफ्रीका के दौरे के लिए निकलना था, लेकिन इस कार्यक्रम में थोड़ा बदलाव हो सकता है। कोरोना वायरस महामारी के नए ओमिक्रोन वेरिएंट के कारण भारतीय टीम के के साउथ अफ्रीका दौरे को एक सप्ताह के लिए आगे बढ़ाया जा सकता है। एक बीसीसीआइ के अधिकारी ने गुरुवार को इस बात की पुष्टि की कि दोनों बोर्ड लगातार बात कर रहे हैं और खिलाड़ियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस पर जल्द फैसला लिया जाएगा, क्योंकि साउथ अफ्रीका में कोरोना के इस नए स्ट्रेन के केस सामने आए हैं।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने एएनआइ से बात करते हुए कहा, "हम ओमिक्रोन कोरोना संस्करण के खतरे के कारण सीरीज को एक सप्ताह पीछे धकेलने पर चर्चा कर रहे हैं और हम भारत सरकार की मंजूरी का इंतजार कर रहे हैं, दोनों बोर्ड लगातार संपर्क में हैं और हर चीज पर चर्चा की जा रही है। हमारे खिलाड़ियों का स्वास्थ्य और सुरक्षा अत्यंत महत्वपूर्ण है।" भारत इसी महीने तीन टेस्ट, तीन एकदिवसीय और चार टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए दक्षिण अफ्रीका का दौरा करेगा। ये दौरा 17 दिसंबर से शुरू होना है। इसी वजह से इंडिया ए टीम इस समय साउथ अफ्रीका ए के खिलाफ अनआफिशियल टेस्ट मैच खेल रही है।

हाल ही में केंद्रीय युवा मामले और खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा था कि बीसीसीआइ को दक्षिण अफ्रीका में क्रिकेट टीम भेजने से पहले सरकार से परामर्श करना चाहिए जहां एक नया COVID-19 संस्करण सामने आया है। अनुराग ठाकुर ने कहा था, "न केवल बीसीसीआइ, बल्कि हर बोर्ड को भी टीम को उस देश में भेजने से पहले भारत सरकार से परामर्श करना चाहिए जहां एक नया कोविड​​-19 संस्करण सामने आया है। टीम को उस देश में भेजना सही नहीं है, जहां खतरा है, अगर बीसीसीआइ हमसे सलाह लेते हैं कि हम उस पर विचार करेंगे।" विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने नए COVID-19 वैरिएंट B.1.1.1.529 का नाम दिया, जिसे दक्षिण अफ्रीका में 'ओमिक्रोन' के रूप में पाया गया है।

Edited By: Vikash Gaur