नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज की मेजबानी को लेकर ईसीबी ने पेशकश की थी, लेकिन बीसीसीआइ ने साफ कर दिया कि निकट भविष्य में ऐसी कोई संभावना नहीं है। बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने पीटीआइ से बात करते हुए कहा कि पहली बात तो यह है कि ईसीबी ने भारत-पाक टेस्ट सीरीज को लेकर पीसीबी से बात की है जो कि थोड़ा अजीब है। किसी भी तरह से पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज का फैसला बीसीसीआइ नहीं बल्कि सरकार करेगी और अभी यथास्थिति बरकरार है। हम पाकिस्तान के खिलाफ केवल बहुराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में ही खेलेंगे।

आपको बता दें कि इंग्लैंड के समाचार पत्र द टेलीग्राफ की एक रिपोर्ट के अनुसार, ईसीबी ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) से भविष्य में दोनों देशों के बीच टेस्ट सीरीज के आयोजन के लिए तटस्थ मेजबान बनने के लिए संपर्क किया। ईसीबी के अधिकारियों ने पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच जारी टी-20 सीरीज के दौरान पीसीबी से बातचीत की। ईसीबी के प्रस्ताव के बाद पाकिस्तान तटस्थ मैदान पर सीरीज खेलने के इच्छुक नहीं है क्योंकि उसके देश में लंबे समय बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की बहाली हो गई है और ऐसे में वह किसी तटस्थ देश में खेलना नहीं चाहता।

भारत और पाकिस्तान के बीच आखिरी टेस्ट सीरीज साल 2007-08 में खेला गया था और तब तीन मैचों की टेस्ट सीरीज खेली गई थी। इस टेस्ट सीरीज में भारत को 1-0 से जीत मिली थी। दोनों टीमों के बीच अब तक 15 टेस्ट सीरीज खेली जा चुकी है। इन टेस्ट सीरीज में भारत को 4 बार जीत मिली है जबकि पाकिस्तान ने भी 4 टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज की है। वहीं 7 सीरीज ड्रा पर खत्म हुआ था जबकि साल 1998-99 में एशियन टेस्ट चैंपियनशिप खेली गई थी जिसमें भारत,पाकिस्तान, श्रीलंका और बांग्लादेश ने हिस्सा लिया था और इसमें पाकिस्तान की टीम चैंपियन बनी थी।

Edited By: Sanjay Savern

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट