कोलकाता, आइएएनएस। Indian vs Bangladesh first day night test match: भारत व बांग्लादेश के बीच कोलकाता में खेले जाने वाले डे-नाइट टेस्ट मैच के समय में ओस को ध्यान में रखते हुए बदलाव किए गए हैं। भारत में जाड़े की शाम में ओस काफी मात्रा में गिरता है और इससे खेल पर असर होता है। इसे देखते हुए बीसीसीआइ (BCCI) से बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन (CAB) ने ये गुजारिश की थी कि मैच के समय में बदलाव किया जाए। बोर्ड ने कैब की इस मांग के स्वीकार कर लिया है और अब ये मैच दिन में एक बजे से शुरू होगा और रात आठ बजे तक खेला जाएगा। भारत अपना पहले डे-नाइट टेस्ट मैच बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता में 22 नवंबर से 26 नवंबर तक खेलेगा। 

बोर्ड के एक अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी कि खेल के समय में बदलाव किया गया है और ये रात आठ बजे तक खेला जाएगा। ओस को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है क्योंकि अगर इसके बाद मैच खेला जाता है तो गेंद काफी गीली हो जाएगी और इससे खिलाड़ियों को परेशानी हो सकती है। अधिकारी ने कहा कि ड्यू फैक्टर को ध्यान में रखते हुए कैब के आग्रह को बोर्ड ने मान लिया है। अब दूसरा टेस्ट मैच एक बजे शुरू होगा। खेल का पहला सेशन एक बजे से तीन बजे तक चलेगा। इसके बाद दूसरा सेशन 3.40 से 5.40 तक चलेगा और फिर तीसरा सेशन शाम 6 बजे से रात 8 बजे तक चलेगा। अधिकारी ने इस बात की जानकारी आइएएनएस को दी। 

ईडन गार्डन ने पिच क्यूरेटर सुजान मुखर्जी ने कहा कि खेल की जल्दी शुरुआत होने से हमें ड्यू फैक्टर से फाइट करने में आसानी होगी। ओस खेल को रात 8 या फिर 8.30 के बाद प्रभावित करता है और ये हम उजले गेंद की क्रिकेट में देख चुके हैं। इससे पहले ओस खेल को ज्यादा प्रभावित नहीं कर पाता है। इसके अलावा हमने ओस से छुटकारा पाने के लिए कुछ अन्य उपाय भी किए हैं। 

वहीं मैच को लेकर किस तरह का पिच तैयार किया गया है इस पर पिच क्यूरेटर ने कहा कि हमने अन्य डे गेम की तरह की पिच को तैयार किया है। हमने जितना संभव हुआ है पिच को खेलने के लायक बनाया है। इस बार भी पिच वैसा ही है जैसा कि हमेशा से ईडन का पिच रहा है। डे-नाइट मैच में भी पिच में किसी तरह का कोई फर्क नहीं दिखेगा। वहीं कैब ने इस मैच को लेकर कहा है कि टिकट की भारी मांग है। कैब ने बताया कि शुरुआत के तीन दिनों तक पहले डे-नाइट टेस्ट मैच को देखने 50,000 से ज्यादा दर्शक आ सकते हैं। 

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप