नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए रवाना हो गई है। ऑस्ट्रेलिया का दौरा भारतीय टीम के लिए हमेशा ही चुनौतियों से भरा रहा होता है। कोहली एंड कंपनी के पास इस बार ऑस्ट्रेलिया में सीरीज़ जीतने का अच्छा मौका है, क्योंकि उनके दो दिग्गज बल्लेबाज़ स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर एक साल का बैन झेल रहे हैं। लेकिन टीम इंडिया के इस दौरे से पहले ही पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज़ों ने भारतीय टीम के साथ माइंडगेम खेलने शुरू करतो हुए भारतीय टीम की खामियों को उजागर करना शुरू कर दिया है।

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज माइक हसी का मानना है कि भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज में ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की कमी खलेगी। टेस्ट सीरीज छह दिसंबर को एडिलेड में शुरू होगी। पांड्या को सितंबर में एशिया कप के दौरान कमर के निचले हिस्से में चोट लगी थी।

भारत को खलेगी पांड्या की कमी- हसी

हसी ने कहा, ‘मुझे लगता है कि हार्दिक काफी प्रतिभाशाली हैं और मुझे यकीन है कि ऑस्ट्रेलियाई हालात में वह बेहतरीन प्रदर्शन करते। उनके ऑलराउंडर खेल से टीम को संतुलन मिलता है। उसकी कमी भारत को जरूर खलेगी।’

सितारों के बिना उतर रही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत के पास सीरीज जीतने का मौका है लेकिन ‘मिस्टर क्रिकेट’ के नाम से पहचाने जाने वाले हसी को यकीन है कि मेजबान टीम का अनुभवी गेंदबाजी आक्रमण भारतीय युवा बल्लेबाजों को परेशान करेगा। उन्होंने कहा, ‘भारत के पास अच्छा मौका है, क्योंकि यह बेहतरीन टीम है और भारत के पास कुछ बहुत अच्छे तेज गेंदबाज हैं। ऑस्ट्रेलिया का गेंदबाजी आक्रमण भी उम्दा है और भारत के युवा बल्लेबाजों को चुनौती देगा। ऑस्ट्रेलिया को उसकी धरती पर हराना कठिन है।’

कोहली को रखना होगी शांत

ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे बड़ी चुनौती भारतीय कप्तान विराट कोहली के बल्ले पर अंकुश लगाने की होगी। हसी ने कहा कि मेजबान गेंदबाजों को भारतीय कप्तान के सामने संयम बरतना होगा। ऑस्ट्रेलियाई टीम कोहली के खिलाफ तैयारी से उतरेगी, लेकिन उस पर अमल करना होगा। हसी ने कहा, ‘ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को कोहली जैसे विश्वस्तरीय खिलाड़ी के सामने लंबे समय तक संयम बरतना होगा।’

गिलक्रिस्ट बोले, भारतीय तेज गेंदबाजों पर होंगी निगाहें

भारतीय तेज गेंदबाजों ने पिछले कुछ समय में अपनी क्षमता का शानदार नमूना पेश किया है, लेकिन पूर्व ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट का मानना है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनके प्रदर्शन पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। गिलक्रिस्ट ने कहा कि यह कहना मुश्किल है कि वे कैसा प्रदर्शन करेंगे। यह सीरीज का दिलचस्प हिस्सा बनने जा रहा है, क्योंकि ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों ने साबित किया है कि ऑस्ट्रेलियाई परिस्थितियों में उनका कोई जवाब नहीं है। लेकिन, मैं तेज गेंदबाजी इकाई को लेकर भारतीय नजरिये से वास्तव में उत्साहित हूं।

एक्स-फैक्टर बुमराह: फ्लेमिंग

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज डेमियन फ्लेमिंग ने भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण में जसप्रीत बुमराह को एक्स-फैक्टर बताया है। उन्होंने कहा कि बुमराह वाकई एक्स-फैक्टर साबित होंगे। उन्होंने छह टेस्ट मैच में 28 विकेट निकाले हैं। मैंने उन्हें आइपीएल में देखा है। उनका एक अजीबोगरीब एक्शन है और एक खराब रन-अप है, लेकिन मुझे लगता है बल्लेबाज के लिए यह बेहद कठिन होगा। उनके पास गति है और उन्हें उछाल मिलेगा। साथ ही साथ वह एक अच्छी यॉर्कर भी करते हैं। ऐसे में मुझे लगता है कि वह काफी अच्छा करेंगे। यह एक ऐसा एक्स-फैक्टर है जो भारतीय गेंदबाजी में पहले कभी नहीं था, जो पुछल्ले बल्लेबाजों को परेशान कर सके। उन्होंने खुद को बहुत अच्छे से परिवर्तित किया है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप