नई दिल्ली, जेएनएन। ऑस्ट्रेलिया में खेले गए आईसीसी महिला टी20 विश्व कप का आयोजन शानदार रहा। 8 मार्च को खेले गए फाइनल मुकबले में भारत को हराकर मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने खिताब अपने नाम किया। इस बार के टी20 विश्व कप पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ डाले अकेले फाइनल मुकाबले को देखने इतने लोग जमा हुए जिसने कीर्तिमान स्थापित कर दिया।

टेलीविजन जगत के व्यूवरशिप के आंकड़े मुहैया कराने वाली संस्था BARC के मुताबिक, इस टूर्नामेंट को 50 मिलियन से ज्यादा लोगों ने देखा है। टी20 विश्व कप के दौरान 5.4 बिलियन मिनट वॉच टाइम मिला है।

टूर्नामेंट का भारत में प्रसारण करने वाली कंपनी ने इस बात की जानकारी दी है। जानकारी के मुताबिक इस बार टूर्नामेंट को देखने वालों की संख्या हर मिनट तीन गुणा ज्यादा रही। 2018 में आयोजन टी20 विश्व कप में जहां 1.8 से बढ़कर यह 5.4 बिलियन मिनट हो गई।

भारतीय टीम टी20 विश्व कप के फाइनल में पहली बार पहुंची थी जहां उसका सामना मेजबान टीम के साथ हुआ था। फाइनल मुकाबले में भी पिछले साले रिकॉर्ड तोड़ डाले यह औसतन 9.9 मिलियन रही। भारत के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए विश्व कप के अब तक का सबसे बड़ा स्कोर बना डाला। भारत के सामने 184 रन का लक्ष्य रखा गया था जवाब में भारतीय टीम महज 99 रन पर ही ऑलआउट हो गई।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए इस फाइनल मुकाबले की मेजबानी का जिम्मा मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड को मिला था। इस मैच को देखने के लिए 86 हजार 174 लोग देखने पहुंचे थे। यह अपने आप में महिला क्रिकेट में आए दर्शकों का रिकॉर्ड है।

 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस