नई दिल्ली, जेएनएन। Shafali Verma became player of the match: शेफाली वर्मा भारत के लिए अपना पहला महिला टी 20 विश्व कप खेल रही हैं और इस टूर्नामेंट के दूसरे मुकाबले में ही उन्होंने अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी के दम पर 'प्लेयर ऑफ द मैच' का खिताब जीतकर दिखा दिया कि उनमें कितनी संभावनाएं हैं। बांग्लादेश के खिलाफ महिला टी 20 विश्व कप 2020 में भारतीय टीम ने लगातार अपनी दूसरी जीत दर्ज की और इस जीत में शेफाली की बल्लेबाजी की बड़ी भूमिका रही। शेफाली ने इस मैच में छोटी लेकिन धमाकेदार पारी खेलकर टीम को शानदार शुरुआत दिलाई और उनकी बेहतरीन शुरुआत के बल पर ही टीम इंडिया ने 20 ओवर में 6 विकेट पर 142 रन बनाने में सफलता हासिल की। शेफानी जिस अंदाज में बल्लेबाजी करती हैं उसी की वजह से उन्हें भारतीय महिला क्रिकेट टीम की लेडी वीरेंद्र सहवाग कहा जाने लगा है। 

शेफाली की बैखौफ पारी, बांग्लादेश पर पड़ी भारी

शेफाली ने  इस मैच में 17 गेंदों पर 39 रन की पारी खेली। उन्होंने अपनी पारी में दो चौके व चार शानदार छक्के लगाए। उनका स्ट्राइक रेट 229.41 का रहा। हालांकि वो पन्ना घोष की एक गेंद पर चूक कर बैठीं और हवा में शॉट खेलकर अपना विकेट गंवा दिया। अगर वो कुछ देर तक और क्रीज पर रहतीं तो नजारा कुछ और हो सकता था। भारतीय टीम को इस मैच में पहला झटका 16 रन के स्कोर पर लग गया था, लेकिन शेफाली ने अपना बेखौफ खेल जारी रखा और अच्छी पारी खेलकर सबका दिल जीत लिया। अपने पहले टी 20 विश्व कप के दूसरे मैच में ही वो प्लेयर ऑफ द मैच चुनीं गई जो बड़ी उपलब्धि है। शेफाली इस मैच में भारत की टॉप स्कोरर रहीं। 

शेफानी वर्मा ने 16 साल 27 दिन की उम्र में प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब जीता और टी 20 वर्ल्ड कप में सबसे कम उम्र में ये खिताब जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गईं। शेफाली से पहले सबसे कम उम्र में प्लेयर ऑफ द मैच खिताब जीतने वाली पहली महिला खिलाड़ी साउथ अफ्रीका की डेन वेन नेकेर्क थीं जिन्होंने साल 2009 में 15 साल 304 दिन की उम्र में ये खिताब जीता था। वो किसी भी विश्व कप चाहे वो वनडे या टी 20 वर्ल्ड कप की बात हो सबसे कम उम्र में प्लेयर ऑफ मैच जीतने वाली खिलाड़ी हैं। 

पूनम यादव ने फिर की धारदार गेंदबाजी

भारतीय टीम ने इस मैच में 142 रन बनाए थे और टीम को जीत दिलाने में गेंदबाजों की भी बड़ी भूमिका रही। खासतौर पर पूनम यादव ने एक बार फिर से अच्छी गेंदबाजी की और विरोधी बल्लेबाजों की एक नहीं चलने दी। उन्होंने इस टूर्नामेंट के अपने दूसरे मैच में 4 ओवर में 18 रन देकर तीन विकेट झटके। इससे पहले यानी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए पहले मैच में उन्होंने चार विकेट लेकर भारत को जीत दिलाई थी और प्लेयर ऑफ द मैच बनीं थी। उनका ये शानदार प्रदर्शन दूसरे मैच में भी जारी रहा। वो इस टूर्नामेंट के दो मैचों में अब तक कुल सात विकेट ले चुकी हैं। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस