नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय महिला टीम को टी-20 वर्ल्डकप के सेमीफाइनल में इंग्लैंड के हाथों 8 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इस तरह भारतीय टीम का पहली बार फाइनल में पहुंचने का सपना भी चकनाचूर हो गया। अब भारत तो हार गया लेकिन टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर और टीम मैनेजमेंट की एक गलती की वजह से टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा।

सेमीफाइनल मुकाबले में हरमनप्रीत कौर ने अनुभवी और शानदार फॉर्म में चल रही मिताली राज को टीम में शामिल नहीं किया, उनके इस फैसले से कई क्रिकेट दिग्गज भी हैरान है क्योंकि इतने महत्वपूर्ण मैच में मिताली को टीम में शामिल ना करना बहुत बड़ी गलती है।

ऐसा भी नहीं है कि मिताली राज का इस टूर्नामेंट में प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा हो। मिताली राज ने ग्रुप दौर के दो मैचों में लगातार दो अर्धशतक जड़े थे। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच से पहले वो चोटिल हो गई थीं। उन्हें लगातार दो मुकाबलों में 'मैन ऑफ द मैच' भी चुना गया था। 

टॉस के बाद कप्तान हरमनप्रीत ने कहा, 'मिताली की फिटनेस कोई दिक्कत नहीं, बल्कि हम बस विनिंग कॉम्बिनेशन के साथ खेलना चाहते थे।' मिताली राज की जगह तानिया भाटिया ने स्मृति मंधाना के साथ पारी का आगाज किया।

सेमीफाइनल मैच का हाल

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए केवल 112 रन ही बनाए, छोटे स्कोर का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम ने एमी एलेन जोंस और नतालिया सीवर की शानदार पारियों की बदौलत 18वें ओवर में ही लक्ष्य हासिल कर लिया। सीवर ने 52 और एलेन ने 53 रन की नाबाद पारी खेली। अब फाइनल में इंग्लैंड का सामना ऑस्ट्रेलिया से 24 नवंबर को होगा।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Lakshya Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस