नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज क्रिकेटर एडम गिलक्रिस्ट खुद को भारतीय टीम के साथ पूर्णकालिक कोच के रूप में नहीं देखते, लेकिन वह आइपीएल में वापसी करने को पूरी तरह तैयार हैं, भले ही उन्हें कोई भी भूमिका दी जाए। 2013 में अपना अंतिम आइपीएल खेलने वाले गिलक्रिस्ट ने कहा कि उन्हें दुनिया की इस सबसे लोकप्रिय टी-20 लीग का अनुभव बहुत पसंद आया था। इसमें उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब की कोचिंग की भूमिका भी निभाई थी।

पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज गिलक्रिस्ट ने कहा, 'एक टीम को पूरे समय के लिए कोचिंग देना असंभव है। मैं खुद को कोच के रूप में नहीं देखता, लेकिन आइपीएल में कोई भूमिका निभा सकता हूं। मैं खुद को किसी भी तरह की पूर्णकालिक भूमिका में नहीं देखता और बीसीसीआइ के साथ आपको पूर्णकालिक प्रतिबद्धता की जरूरत होगी, जो समझी जा सकती है, लेकिन इस समय मैं आइपीएल में मौकों के लिए तैयार हूं। गिलक्रिस्ट ने अपनी कप्तानी में 2009 में डेक्कन चार्जर्स को आइपीएल खिताब दिलवाया था, जो टीम अब खत्म हो चुकी है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: sanjay savern