कराची, पीटीआइ। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के हेड कोच और मुख्य चयनकर्ता मिस्बाह उल हक इस समय आलोचनाओं का शिकार हो रहे हैं। श्रीलंका की कमजोर टीम से तीन टी20 इंटरनेशनल मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप होने के बाद कोच और चयनकर्तान मिस्बाह उल हक चिंता में फंसे हुए। अब खबर सामने आ रही है कि मिस्बाह उल हक कुछ पाकिस्तानी खिलाड़ियों के एटिट्यूड से निराश हैं। 

रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि मिस्बाह उल हक पाकिस्तान के खिलाड़ियों की एटिट्यूड से इस बात से निराश हैं, क्योंकि वे प्रोपर ट्रेनिंग से दूर रहते हैं। इसके अलावा अनुशासन की भी खिलाड़ियों में कमी है। साथ ही साथ वे प्रोफेशनल स्टैंडर्ड का पालन नहीं कर रहे। श्रीलंका के खिलाफ घर पर टी20 की नंबर वन टीम होने के बाद सीरीज में 3-0 से मात खाने के बाद मिस्बाह परेशान थे। 

सूत्रों का कहना है, "मुख्य कोच के रूप में अपने पहले काम में मिस्बाह उल हक को सबसे ज्यादा परेशान किया है। प्रबंधन के निर्देशों का पालन करने और उच्च फिटनेस मानकों को रखने के लिए उचित प्रशिक्षण करने के लिए कुछ खिलाड़ी तैयार नहीं हैं। मिस्बाह इस बात से नाराज हैं कि कुछ खिलाड़ी आराम ज्यादा करते हैं और ट्रेनिंग कम लेते हैं। इसके अलावा खिलाड़ी अपनी क्रिकेट के अनुशासन को भी नहीं बनाए रखते।" 

इतना ही नहीं, मिस्बाह उल हक कप्तान सरफराज अहमद के रवैये से भी ज्यादा खुश नहीं हैं। कप्तान सरफराज जिम्मेदारी लेने से भागते हैं। एक सूत्र ने एजेंसी से ये भी कहा है कि मिस्बाह उल तीन सीनियर खिलाड़ियों (वहाब रियाज, इमाद वसीम और हैरिस सोहेल) के बर्ताव से खुश नहीं हैं। इन खिलाड़ियों ने कई बार प्रोपर ट्रेनिंग और नेट्स में अभ्यास करने से अपने पैर खींचे हैं। ये खिलाड़ी हमेशा बहाने बनाते रहते हैं। 

सूत्रों ने आगे बताया है कि बल्लेबाज हैरिस सोहेल दर्द और छोटी-मोटी समस्याओं का बहाना लगाकर खुद को ट्रेनिंग से दूर रखते हैं। इसके अलावा कुछ खिलाड़ी क्रिकेट अनुशासन का पालन नहीं करते। ड्रैसिंग रूम में जो योजना बनाई जाती है, उसे मैदान पर नहीं उतारते। कुछ खिलाड़ी टी20 टूर्नामेंट खेलने की बोलकर कई घंटे तक नदारद रहते हैं और मैच से पहले पहुंचते हैं।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस