नई दिल्ली, जेएनएन। अफगानिस्तान के खिलाफ खेले जाने वाले एकलौते टेस्ट मैच के लिए टीम इंडिया में नवदीप सैनी को शामिल किए जाने के बाद गौतम गंभीर ने पूर्व भारतीय कप्तान बिशन सिंह बेदी और पूर्व भारतीय बल्लेबाज़ चेतन चौहान पर निशाना साधा है।

मोहम्मद शमी के यो-यो टेस्ट में फेल होने के बाद नवदीप सैनी को उनकी जगह अफगानिस्तान के खिलाफ खेले जाने वाले एकलौते टेस्ट मैच में जगह दी गई। नवदीप सैनी के टीम इंडिया में शामिल होने के बाद गंभीर ने इन दोनों खिलाड़ियों पर निशाना साधाकर एक ट्वीट किया।

ऐसे साधा गंभीर ने निशाना

गंभीर ने अपने ट्वीट में लिखा कि, डीडीसीए के सदस्यों बिशन सिंह बेदी और चेतन चौहान के प्रति मेरी 'संवेदनाएं, भारतीय टीम में 'बाहरी' नवदीप सैनी को शामिल किया गया है। मुझे बताया गया है कि काले आर्मबैण्ड (हाथ पर बांधने वाले पट्टे) बेंगलुरु में 225 रुपये में मिल रहे हैं। सर, ध्यान रखिए कि नवदीप पहले भारतीय है और फिर बाद में स्थानीय।'

गंभीर ने इसलिए किया ट्वीट

गंभीर ने इस ट्वीट इसलिए किया है, क्योंकि एक बार दिल्ली की टीम में नवदीप सैनी का चयन करवाने के लिए गौतम को काफी माथापच्ची करनी पड़ी थी। रणजी टीम के चयन के लिए दिल्ली के चयनकर्ता बैठे तो कप्तान के नाते गंभीर ने नवदीप का नाम आगे बढ़ाया। चयनकर्ताओं ने इस पर एतराज जाहिर किया कि दिल्ली से बाहर के लड़के को क्यों खिलाया जाए? लेकिन गंभीर नहीं माने। बैठक रद हो गई। दिग्गज स्पिनर बिशन सिंह बेदी ने भी नवदीप के चयन पर एतराज जाहिर किया। इसके बाद हुई बैठक में भी बात नहीं बनी। गौतम गंभीर अपनी बात पर अडिग थे कि वह कप्तान के नाते इस गेंदबाज को अपनी टीम में लेना चाहते हैं। आखिरकार कप्तान की चली और नवदीप को दिल्ली की टीम में चुन लिया गया।

बेदी और चेतन का ही नाम क्यों?

गंभीर ने अपने ट्वीट में सिर्फ चेतन चौहान और बिशन सिंह बेदी का नाम इसलिए लिखा है, क्योंकि जब नवदीप सैनी के चयन के लिए गंभीर अड गए थे तब बिशन सिंह बेदी और चेतन चौहान ने ऐतराज जताया था। उस समय चेतन चौहान डीडीसीए के उपाध्यक्ष थे। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

By Pradeep Sehgal