चंडीगढ़, आइएएनएस भारत में इस समय घरेलू स्तर पर वनडे टूर्नामेंट यानी विजय हजारे ट्रॉफी खेली जा रही है। इस टूर्नामेंट में सोमवार को दो क्वार्टर फाइनल मुकाबले हुए जो बारिश के कारण पूरे नहीं हो सके। ऐसे में ज्यादा अंकों के आधार पर 2 टीमों को सीधे सेमीफाइनल का टिकट मिल गया, जबकि टीमें देखती रह गईं। ऐसे में पूर्व क्रिकेटरों ने बीसीसीआइ ने विजय हजारे ट्रॉफी के नॉकआउट गेम्स के लिए अतिरिक्त दिन यानी रिजर्व डे रखने की मांग की है। 

भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह और ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने मंगलवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ से विजय हजारे ट्रॉफी में अतिरिक्त दिन नहीं होने पर सवाल किया है। अतिरिक्त दिन नहीं होने के कारण पंजाब की टीम सेमीफाइनल में नहीं जा सकी। दरअसल, क्वार्टर फाइनल में तमिलनाडु द्वारा रखे गए 175 रनों के जवाब में पंजाब ने 13 ओवरों में दो विकेट खोकर 52 रन बना लिए थे, लेकिन तभी बारिश आ गई और मैच रद कर दिया गया।

युवी, भज्जी और मनदीप ने किए ये ट्वीट

लीग चरण में ज्यादा मैच जीतने के कारण तमिलनाडु को सेमीफाइनल में जगह मिली। युवराज ने ट्वीट में लिखा, "पंजाब के लिए विजय हजारे ट्रॉफी में तमिलनाडु के खिलाफ एक और दुर्भाग्यपूर्ण परिणाम। एक बार फिर मैच खराब मौसम के कारण रद हो गया और अंकों के आधार पर हम सेमीफाइनल में नहीं जा सकते। क्यों हमारे पास अतिरिक्त दिन नहीं है। या फिर यह वो घरेलू टूर्नामेंट है जो बीसीसीआइ के लिए मायने नहीं रखता।"

पंजाब के क्रिकेटर मनदीप सिंह ने भी ट्वीटर पर इस बात पर नाराजगी जताई थी। उन्होंने लिखा था, 'अब हम बारिश के कारण टूर्नामेंट से बाहर हैं वो भी बिना क्वार्टर फाइनल खेले। यह बेहद निराशाजनक है।' मनदीप को हरभजन का साथ मिला। हरभजन ने उनके ट्वीट के जवाब में लिखा, "खराब नियम, इन टूर्नामेंट में अतिरिक्त दिन नहीं है। बीसीसीआइ को इसे देखना चाहिए और इसे बदलना चाहिए।"

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस