मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

रियो डि जेनेरियो। वर्तमान में भले ही क्रिकेट आज ओलंपिक खेलों का हिस्सा न हो, लेकिन रियो में एक पूर्व टेस्ट क्रिकेटर ने ऐसा करिश्मा कर दिखाया है जिसके बारे में सुनकर आप यकीनन चौंक जाएंगे।इस पूर्व क्रिकेटर ने रियो में रजत पदक जीत लिया है । एक टेस्ट और 17 वनडे मैच खेल चुकी इस क्रिकेटर ने एथलीट के जैवलीन थ्रो मुकाबले में अपने देश को रजत पदक दिलाया है।

ऑलराउंडर क्रिकेटर रही सनाटे विल्जोन ने ये कीर्तिमान अपने नाम किया है। दक्षिण अफ्रीका की महिला टीम की ऑलराउंडर विल्जोन ने बृहस्पतिवार को जैवलिन थ्रो में रजत पदक जीतकर इतिहास रच दिया है।33 साल की विल्जोन जैवलीन थ्रो में क्रोएशिया की एथलीट सारा कोल्क के बाद दूसरे स्थान पर रही। कोल्क ने 66.18 मीटर तक जैवलीन थ्रो (भाला फेंक) किया जबकि विल्जोन ने 64.92 मीटर तक भाला फेंक पाईं।

विल्जोन ने दक्षिण अफ्रीका के लिए रियो ओलंपिक में नौंवां पदक जीता है जो इस समय पदक तालिका में ओवरऑल 34वें पायदान पर है। इस अफ्रीकी टीम ने एक स्वर्ण और 6 रजत के साथ 2 कांस्य पदक जीते हैं।

चार साल पहले लंदन ओलंपिक में भी विल्जोन पदक जीतने के करीब पहुंच गई थीं लेकिन 64.53 मीटर की दूरी तय की लेकिन वह चौथे पायदान पर रहीं और पदक से चूक गईं। उनकी यह दूरी उस समय उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था लेकिन जर्मन एथलीट लिंडा स्थाल ने 64.91 मीटर दूर भाला फेंक कांस्य जीत लिया।

रियो की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Mohit Tanwar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप