(शिवम् अवस्थी), नई दिल्ली। आइपीएल-9 में गुजरात लायंस और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच कानपुर के ग्रीनपार्क में गुरुवार रात एक अहम मुकाबला खेला गया। गुजरात की टीम ने इस मैच में कोलकाता को 6 विकेट से मात देकर अंक तालिका में शानदार छलांग लगाई और पांचवें पायदान से सीधे दूसरे स्थान पर कब्जा जमा लिया है। इस मैच में यूं तो गुजरात के कप्तान सुरेश रैना ने नाबाद 53 रन बनाकर शानदार वापसी की लेकिन गुजरात के जिस खिलाड़ी के दम पर असल मायने में ये मैच उन्होंने जीता वो थे ड्वेन स्मिथ।

ये भी पढ़ेंः रैना ने एक ही दिन के अंदर विराट को फिर पीछे छोड़ा

- इस बार बल्लेबाजी नहीं, दिखा गेंदबाजी का दमः

आमतौर पर ड्वेन स्मिथ जब बल्लेबाजी करने आते हैं तो तमाम नए रिकॉर्ड बनाकर विरोधी गेंदबाजों की क्लास लगाते हैं लेकिन कोलकाता के खिलाफ कानपुर में उनकी बल्लेबाजी नहीं, बल्कि उनकी गेंदबाजी ने दिल जीता। कोलकाता पहले बल्लेबाजी करने उतरी थी और उनका खेल वेस्टइंडीज के इसी खिलाडी़ ने बिगाड़ा। स्मिथ ने अपने चार ओवरों में महज 8 रन लुटाते हुए 4 विकेट झटके जिससे कोलकाता की टीम पूरी तरह बैकफुट पर आ गई, नतीजतन वे 20 ओवर में सिर्फ 124 रन ही बना सके और ये लक्ष्य गुजरात ने आसानी से हासिल कर लिया।

- क्या कहते हैं आंकड़ेः

आंकड़ों के लिहाज से देखें तो चार या उससे ज्यादा विकेट लेते हुए ये आइपीएल में किसी भी गेंदबाज द्वारा तीसरा सर्वश्रेष्ठ व किफायती प्रदर्शन था। इस मामले में शीर्ष पर पूर्व गेंदबाज अनिल कुंबले का नाम दर्ज है जिन्होंने पांच रन लुटाते हुए पांच विकेट लिए थे जबकि रोहित शर्मा ने 6 रन देकर चार विकेट लिए थे। दोनों ने ये धमाल 2009 में मचाया था। ड्वेन स्मिथ अब इस मामले में तीसरे स्थान पर आ गए हैं। आपको ये भी बता दें कि 2013 के बाद पहली बार ड्वेन स्मिथ ने टी20 क्रिकेट में तीन या उससे ज्यादा विकेट लिए हैं।

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Shivam