मुंबई। पूर्व भारतीय कप्तान और राजस्थान रॉयल्स के मेंटर राहुल द्रविड़ ने बिना किसी का नाम लिए इंडियन प्रीमियर लीग से 'चकिंग करने वालों' को दूर करने के बीसीसीआइ के कदम का पूरा समर्थन किया। द्रवि़ड़ ने कहा कि संदिग्ध गेंदबाजी ऐक्शन वाले गेंदबाजों को हटाने के कदम से जमीनी स्तर पर बड़ा संदेश जाएगा। ऐसा करने से कोच सुधारवादी कदम उठाएंगे, जिससे कि गेंदबाज अपने क्रिकेट जीवन के शुरआती चरण में ही सुधार कर सकें।

द्रविड़ ने कहा कि 'मैं किसी व्यक्तिगत खिलाड़ी के बारे में नहीं बोलना चाहता। लेकिन मैं संदिग्ध एक्शन वाले गेंदबाजों को हटाने के बीसीसीआइ और आईसीसी के फैसले का समर्थन करता हूं। द्रविड़ बीसीसीआइ के द्वारा सुनील नरेन को अपने आयोजित मैचों में ऑफ स्पिन गेंदबाजी करने से प्रतिबंधित करने से जुड़े सवाल पर प्रतिक्रिया दे रहे थे। नरेन आईपीएल में कोलकाता नाइटराइडर्स की ओर से खेलते हैं।

द्रविड़ ने कहा कि 'मैं कई कारणों से इसका समर्थन करता हूं। लोग इन गेंदबाजों को सजा देने पर चर्चा करते हैं लेकिन उन बल्लेबाजों का क्या, जो इनका सामना करते हैं और उनके करियर बर्बाद हो जाते हैं। उन अन्य गेंदबाजों का क्या, जिनके एक्शन बिल्कुल सही है लेकिन इन गेंदबाजों के कारण वे बाहर हैं और इसके बाद वे कभी वापसी नहीं कर पाते।

द्रवि़ड़ ने कहा कि इस मुद्दे पर जूनियर और स्कूल स्तर पर खिलाड़ियों के प्रशिक्षकों को गंभीरता से ध्यान देने की जरूरत है। इस पूर्व दिग्गज बल्लेबाज ने कहा कि वह इस खबर पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दे सकते कि भारतीय टीम के साथ उन्हें सलाहकार का पद मिल रहा है क्योंकि बीसीसीआइ ने इस संबंध में उनसे कोई संपर्क नहीं किया है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: sanjay savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस