इंदौर, जेएनएन। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इंदौर में खेले गए तीसरे वनडे में मिली जीत के बाद भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने टीम के युवा ऑलराउंडर और 'मैन ऑफ द मैच' रहे हार्दिक पांड्या की जमकर सराहना की।

कोहली ने कहा, 'पांड्या स्टार है, वह गेंद, बल्ले और क्षेत्ररक्षण सबमें बेहतर करता है। हम पहले आक्रामक ऑलराउंडर की कमी झेलते थे, उसने इसे पूरा कर दिया है। वह भारतीय क्रिकेट की धरोहर है। उसे मैच में ऊपर भेजने का आइडिया रवि भाई का था। वह चाहते थे कि पांड्या स्पिनरों के खिलाफ अटैक करे।

उन्होंने कहा, 'हमें पता था कि अगर उनके (ऑस्ट्रेलिया) मध्यक्रम के दो-तीन विकेट ले लेते हैं तो वापसी की जा सकती है। यह 330-340 रनों का विकेट था। खराब समय से बाहर निकलना ही टीम की काबिलियत होती है।'

मैन ऑफ द मैच रहे हार्दिक पांड्या ने कहा, 'बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूं। अगली बार मैच खत्म करके पैवेलियन जाने की कोशिश करूंगा। मैं इसे मौके की तरह ले रहा था।' पांड्या को इस बात का मलाल है कि वह मैच खत्म होने से ठीक पहले 72 गेंदों पर 78 रन की शानदार खेलकर आउट हो गए और टीम को जिता कर नाबाद पवेलियन नहीं लौटे। उम्मीद है कि अगली बार वह ऐसा नहीं होने देंगे और एक परिपक्व बल्लेबाज की तरह नाबाद लौटेंगे।

मैं बाएं हाथ के स्पिनर को लक्ष्य बनाना चाह रहा था। मैंने कुछ छक्के मारे। इसके बाद मैं खुद को कुछ समय देना चाहता था। मैं हर जगह टीम के लिए कुछ करना चाहता हूं।

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने कहा, 'शुरुआत के 37-38 ओवर में हमने अच्छा मंच तैयार कर लिया था लेकिन आखिर के ओवरों में भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया।

निश्चित तौर पर डेथ ओवरों में बुमराह और भुवनेश्वर सर्वश्रेष्ठ हैं। फिंच ने अच्छी पारी खेली लेकिन पांड्या शानदार रहे।'

 क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Mohit Tanwar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप